HamburgerMenuButton

Chhattisgarh Weather Update: मौसम का मिजाज बदलते ही टूटा दस सालों का रिकार्ड

Updated: | Wed, 12 May 2021 01:44 PM (IST)

रायपुर। Chhattisgarh Weather Update: बंगाल की खाड़ी से आ रही नम हवाओं के साथ ही लगातार बन रहे द्रोणिका व चक्रवात के प्रभाव से छत्‍तीसगढ़ में मौसम का मिजाज बदल गया। इस साल इस तरह से बदलाव आया है कि मई में बीते दस सालों का रिकार्ड इन दस दिनों में ही टूट गया है। चौबीस घंटे में हुई सर्वाधिक बारिश के मामले में राजधानी रायपुर में अब सर्वाधिक बारिश साल 2020 में 34.1 मिली मीटर यानी एमएम दर्ज हुई थी, जो नौ मई 2021 को टूट गया।

इस दिन रायपुर में 54 एमएम बारिश दर्ज की गई। जबरदस्त बारिश की वजह से गर्मी के इस मौसम में भी ठंडकता आई है और अधिकतम व न्यूनतम तापमान में गिरावट आई है। बीते दस सालों में पूरे मई में सबसे कम न्यूनतम तापमान 20.2 डिग्री सेल्सियस साल 2020 में रहा। लेकिन 10 मई 2021 को रायपुर में न्यूनतम तापमान 20.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम का मिजाज बदलने की वजह से अब तक लोगों को तपाने के लिए जाना जाने वाला गर्मी का महीना काफी ठंडक भरा हुआ है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि ऐसा देखा गया है कि मई में बारिश होती है लेकिन यह बारिश मई के आखिरी हफ्तों में ही ज्यादातर होती है। लेकिन यह पहली बार है कि मई के पहले दस दिनों में ही जबरदस्त बारिश हो गई है। मौसम में आए इस बदलाव की वजह से गर्मी का महीना भी राहत भरा हो गया है और मौसम में थोड़ी ठंडकता ही आ गई है।

सब्जियों को नुकसान

कृषि वैज्ञानिक जीके दास ने बताया कि मौसम में बदलाव की वजह से हो रही बारिश के चलते सब्जियों की फसलों को नुकसान होगा। धान की खड़ी फसल को किसी प्रकार से नुकसान नहीं है। लेकिन सब्जियों को काफी नुकसान होगा और वे खराब होंगी।

सुबह बादल,दोपहर तेज धूप

मंगलवार को भी चक्रवात के प्रभाव से राजधानी रायपुर प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में सुबह बादल छाए रहे। साथ ही कुछ क्षेत्रों में तो बारिश भी हुई,लेकिन दोपहर को तेज धूप निकल गई। यह सिलसिला बुधवार को भी दोपहर तक बना हुआ है। संभावना जताई जा रही है कि शाम तक मौसम फ‍िर बदल सकता है।

यह बन रहा सिस्टम

मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा ने बताया कि एक चक्रीय चक्रवात घेरा विदर्भ के ऊपर 1.5 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है। साथ ही पूर्व पश्चिम द्रोणिका भी मध्य पाकिस्तान व उससे लगे राजस्थान से पश्चिम बंगाल, असम, उत्तर प्रदेश के मध्य भाग होते हुए 0.9 किलोमीटर ऊंचाई तक स्थित है। इसके प्रभाव से ही 12 मई को राजधानी रायपुर सहित प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में गरज चमक के साथ छीटें पड़ेंगे। साथ ही आकाशीय बिजली गिरने व बारिश भी हो सकती है।

कल से सामान्य होने के आसार

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि मौसम गुरुवार से थोड़ा सामान्य होने के आसार है और अधिकतम व न्यूनतम तापमान में थोड़ी बढ़ोतरी हो सकती है।

दस सालों में चौबीस घंटों में रायपुर में बारिश के आंकड़े

वर्ष बारिश (एमएम में) न्यूनतम तापमान

2021 54 एमएम 20.0 डिग्री सेल्सियस

2020 34.1 एमएम 20.2 डिग्री सेल्सियस

2019 - 26.5 डिग्री सेल्सियस

2018 8.8 एमएम 22.7 डिग्री सेल्सियस

2017 2.2 एमएम 22.8 डिग्री सेल्सियस

2016 16.5एमएम 23.7 डिग्री सेल्सियस

2015 4.4 एमएम 24.7 डिग्री सेल्सियस

2014 22.3 एमएम 23.9 डिग्री सेल्सियस

2013 2 एमएम 26.8 डिग्री सेल्सियस

2012 1.6 एमएम 25.1 डिग्री सेल्सियस

2011 1.5 एमएम 24.6 डिग्री सेल्सियस

Posted By: Azmat Ali
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.