Cleanliness System In Raipur: सफाई व्यवस्था को पुख्ता करने के लिए रायपुर निगम प्रशासन हुआ सख्त

Updated: | Mon, 25 Oct 2021 10:05 AM (IST)

Cleanliness System In Raipur: रायपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। रायपुर नगर निगम के वार्डों में साफ-सफाई की बदहाल हो रही व्यवस्था को पुख्ता करने के लिए अब महापौर समेत निगम प्रशासन सख्त हो गया है।वार्डों से अक्सर गायब रहने वाले सफाई कामगारों को रोज सात घंटे तक की ड्यूटी निभानी पड़ेगी। ठेकेदारों को भी साफ तौर पर चेताया गया कि अब उनकी मनमानी नहीं चलने दी जाएगी।

पार्षदों को भी वार्डों में सफाई और कामगारों की निगरानी करने को कहा गया है। दरअसल यह सब कवायद निगम की रैकिंग बढ़ाने को लेकर की गई है। स्मार्ट सिटी में शामिल होने के लिए निगम प्रशासन अब सख्ती के मूड में आ गया है।

रायपुर नगर निगम में 70 वार्ड है। इन वार्डों में साफ-सफाई व्यवस्था के लिए करीब तीन सौ पुराने सफाई कामगारों के साथ ही प्रत्येक वार्ड में औसतन 45 सफाई कामगर तैनात किए गए है जबकि दस जोन में प्रत्येक में 15 ठेकेदारों के साथ ही बीएसयूपी में दो सौ सफाई कामगार लगाए गए है।

रायपुर शहर की सफाई व्यवस्था को सुधारने के लिए नगर निगम की स्वास्थ्य विभाग की टीम पिछले तीन महीने से लगातार ठेके पर रखे गए सफाई कामगारों की वार्डों में ड्यूटी की जांच पड़ताल करती आ रही है। जांच में आधे से भी कम कामगार ड्यूटी पर मिलने पर ठेकेदारों पर जुर्माना लगाकर व्यवस्था सुधारने की कोशिश की लेकिन कामगारों के वार्डों में गायब होने का सिलसिला थमा नहीं है।

सफाई कामगार और उनके ठेकेदारों पर सख्ती करने के बाद अब निगम की टीम कचरे का परिवहन करने वाली रामकी कंपनी के कामकाज की जांच शुरू करने जा रही है। कंपनी के खिलाफ लगातार यह शिकायत मिल रही थी कि उनकी गाड़ियां वार्डों से कचरा कलेक्शन करने जाती ही नहीं है, इससे जगह-जगह पर कचरे का ढेर जमा होने लगा है।

नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग के अध्यक्ष नागभूषण राव ने बताया कि वार्डों में साफ-सफाई की बदहाल हो रही व्यवस्था को और अधिक पुख्ता करने के लिए महापौर-आयुक्त ने भी अब सख्ती अपनाना शुरू कर दिया है।वार्डों में सुबह के समय अक्सर गायब रहने वाले सफाई कामगारों को अब रोज सात घंटे तक की ड्यूटी निभाने फरमान जारी किया गया है। यहीं नहीं रोज वार्डो से तीन से पांच टन कचरा उठाना भी अनिवार्य कर दिया गया है। वार्ड पार्षदों को वार्डों में सफाई और कामगारों की निगरानी करने को कहा गया है। दरअसल यह कवायद निगम की रैकिंग बढ़ाने को लेकर की गई है।

व्यवस्था नहीं सुधरने पर करेंगे सख्त कार्रवाई

शहर के वार्डों में साफ-सफाई व्यवस्था को दुरूस्त करने को लेकर समीक्षा बैठक की गई है।सफाई कामगारों की फील्ड पर सात घंटे ड्यूटी सुनिश्चित करवाकर प्राथमिकता के आधार पर सफाई व्यवस्था सुधारने कहा गया है। इसके बाद भी व्यवस्था नहीं सुधरने पर सख्त कार्रवाई करेंगे। - एजाज ढेबर, महापौर-रायपुर नगर निगम।

Posted By: Kadir Khan