रायपुर स्मार्ट सिटी द्वारा निर्मित किए जा रहे स्मार्ट सड़कों का कलेक्टर ने किया निरीक्षण

Updated: | Sat, 27 Nov 2021 05:09 PM (IST)

रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। कलेक्टर सौरभ कुमार ने शनिवार को रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा शहर में निर्मित किए जा रहे हैं जोनल स्मार्ट सड़कों के प्रगति की जानकारी लेने निर्माण कार्याें का निरीक्षण किया। इस दौरान नगर निगम आयुक्त सह रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड के प्रबंध संचालक प्रभात मलिक, अतिरिक्त प्रबंध संचालक चंद्रकांत वर्मा सहित रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड की तकनीकी टीम भी मौके पर साथ थी।

इस दौरान कलेक्टर सौरभ कुमार ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि इन सड़कों को इस तरह से विकसित किया जाए कि यातायात सुविधाजनक एवं सुव्यवस्थित हो सके, साथ ही इन सड़कों पर रोशनी, जल निकास की पर्याप्त व्यवस्था रहे। रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा जोनल रोड-4 अंतर्गत 1.62 करोड़ की लागत से कोतवाली चौक से नगर निगम और 8.7 करोड़ की लागत से महिला थाना चौक से राजीव गांधी चौक होते हुए शास्त्री चौक तक स्मार्ट सड़क का निर्माण किया जा रहा है।

वहीं जोनल रोड़-2 अंतर्गत 1.60 करोड़ रुपये की लागत से कलेक्टोरेट चौक से खालसा स्कूल तक स्मार्ट सड़क का निर्माण किया जा रहा है। इन सड़कों पर ड्रेनेज सिस्टम, बीटी, अंडर ग्राउंड केबलिंग, सोलर लाईट, फुटपाथ सहित सभी आवश्यक सुविधाओं को ध्यान में रखकर निर्माण कार्य किया जा रहा है। इस दौरान रायपुर स्मार्ट सिटी लि. के मैनेजर सिविल राकेश गुप्ता, एसपी. साहू, डिप्टी मैनेजर राजेश राठौर, अमित मिश्रा, असिस्टेंट मैनेजर योगेंद्र साहू भी उपस्थित रहे।

छत्तीसगढ़ की लोक संस्कृति पुस्तक के लेखक को दिल्ली में मिलेगा पुरस्कार

संस्कृति पर आधारित लेखन को दिए जाने वाले पुरस्कार के लिए छत्तीसगढ़ के साहित्यकार पीसी लाल यादव की पुस्तक छत्तीसगढ़ की लोक संस्कृति का चयन किया गया है। भारत सरकार संस्कृति मंत्रालय राजभाषा प्रभाग द्वारा यह पुरस्कार दिल्ली में प्रदान किया जाएगा। इस पुस्तक का प्रकाशन छत्तीसगढ़ शासन संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग के सहयोग से किया गया है। इस पुस्तक में छत्तीसगढ़ की लोक संस्कृति, गीत, लेख का बेहतर समावेश किया गया है। रिटायर्ड शिक्षक डा.पीसी लाल यादव की अब तक 35 पुस्तकें प्रकाशित हो चुकी हैं। दिल्ली में अगले महीने होने वाले पुरस्कार समारोह में 10 हजार रुपये पुरस्कार राशि के अलावा स्मृति चिह्न, प्रमाणपत्र भी दिया जाएगा।

Posted By: Ravindra Thengdi