HamburgerMenuButton

Dietician-Ayurveda Advice: भोजन पचाने में लस्सी, छाछ का करें सेवन, गिलोय काढ़ा में आंवला का चूर्ण मिलाकर लें

Updated: | Sat, 15 May 2021 10:16 AM (IST)

रायपुर। Dietician-Ayurveda Advice: लाकडाउन में सभी लोग घर पर ही समय व्यतीत कर रहे हैं। बच्चों की आउटडोर एक्टीविटीज पूरी तरह से बंद है। बड़े भी घर से काम कर रहें हैं। ऐसे में सभी की दिनचर्या ख़राब हो रही है, जो कि गंभीर समस्या है। घर पर रहते हुए भी हमें अपनी दिनचर्या को संतुलित रखने की आवश्यकता है। प्रतिदिन नियमित रूप से योग, मेडिटेशन करें। संतुलित आहार लें।

न्यूट्रिशियन आस्था झा का कहना है कि नियमित समय पर सोना और जागना हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए आवश्यक हैं। घर पर रहते हुए थोड़ी-थोड़ी देर में भूख लगने से जहां एक ओर पैकेट बंद चीजें जैसे- चिप्स, बिस्किट्स का सेवन बहुत अधिक बढ़ गया है तो दूसरी ओर मैदा, बेसन से बनी और तली हुई चीजों का भी सेवन बढ़ गया है। जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।

सुबह के नाश्ते में पोहा, उपमा, इडली हल्का लें। दोपहर काे दाल, रोटी, चावल और पत्तेदार सब्जियां, सलाद खाएं। भोजन के थोड़ी देर बाद फल लें। सूखे मेवे, दूध व दूध से बनें पदार्थों लस्सी, छांछ का सेवन करें। ये पाचन तंत्र को मजबूत करने के साथ गर्मी में जल की आपूर्ति करने में भी मददगार है। बार-बार भूख लगने की समस्या से भी आसानी से निपट सकतें हैं।

गिलोय काढ़ा में आंवला का चूर्ण मिलाकर लें

आयुर्वेद कालेज बिलासपुर के डॉ.बृजेश सिंह का कहना है कि गिलोय काढ़ा जिसके साथ लौंग, काली, मिर्च, दालचीनी, अदरक को मिलाकर काढ़ा बनाकर पीने से इम्यूनिटी बढ़ती है। इम्युनिटी बढ़ने से कोरोना के कीटाणुओं से बचाव भी करता है। गर्मी के दिनों में ये काढ़ा गर्म होने (उष्ण वीर्य ) के साथ कभी कभी शरीर में ज्यादा गर्मी करता है। इससे दाने निकलने, मुंह में छाले हो जाते हैं।

इसके लिए गर्मियों में काढ़े में आंवला का चूर्ण एक चम्मच मिलाने से ये शीत वीर्य की वजह से नुकसान नहीं करता। साथ में यस्टिमधु चूर्ण मिलाकर लेने से गले में होने वाली खराश भी नहीं होती। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। कोरोना बीमारी से बचने के अलावा गिलोय के कई फायदे हैं। गिलोय को अरंडी यानी कैस्टर के तेल के साथ मिलाकर लगाने से गाउट (जोड़ों का गठिया) की समस्या में आराम मिलता है।

इसे अदरक के साथ मिला कर लेने से रूमेटाइड आर्थराइटिस की समस्या से लड़ा जा सकता है। खांड के साथ इसे लेने से त्वचा और लीवर संबंधी बीमारियां दूर होती हैं। आर्थराइटिस से आराम के लिए इसे घी के साथ इस्तेमाल करें। कब्ज होने पर गिलोय में गुड़ मिलाकर खाएं। यह खून में शर्करा की मात्रा को कम करता है, जो कि डायबिटीज मरीजों के लिए फायदेमंद है।

Posted By: Azmat Ali
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.