HamburgerMenuButton

Lockdown In Raipur: दस दिनों बाद गली-मुहल्ले के बीच फल, सब्जियां... कीमतों में रही तेजी

Updated: | Mon, 19 Apr 2021 06:08 PM (IST)

रायपुर। Lockdown In Raipur: कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते हुए लाकडाउन ने फलों व सब्जियों की कीमतों में आग लगा दी है। सोमवार को जिला प्रशासन से अनुमति मिलते ही सोमवार को ठेलों,साइकिलों और गाड़ियों में सब्जियों की बिक्री हुई। लेकिन कीमतों में भारी अंतर रहा। टमाटर 30 रुपये से लेकर 50 रुपये किलो तक बिका। वहीं फूल गोभी भी 40 से 70 रुपये किलो, आलू 50 रुपये किलो, बैगन 40 रुपये किलो तक बिका।

कारोबारियों का कहना है कि अभी सब्जियों व फलों की आवक कम है और उन्हें भी काफी अधिक में मिल रहे हैं। इसका असर ही कीमतों में देखने को मिल रहा है। हालात ऐसे ही रहे तो आने वाले दिनों में कीमतों में और आग लग सकती है।

राशन सामग्री की बिक्री नहीं हुई,इसे लेकर व्यापारी नेताओं का कहना था राशन सामग्री ठेले में नहीं रखे जा सकते। ऐसे में कुछ समय के लिए किराना दुकानों को खोलने की अनुमति दी जाए। चैंबर के पूर्व चेयरमैन योगेश अग्रवाल सहित दूसरे नेताओं ने कहा कि डूमरतराई थोक बाजार, रामसागरपारा व गुढ़ियारी बाजार बंद है तो ठेलों के पास भी सामान कहां से आएगा।

कुछ क्षेत्रों में सब्जियां खरीदने लोगों की भीड़

जिला प्रशासन के आदेश के बाद सोमवार से ठेलों व गाड़ियों में सब्जियां व फलों की बिक्री हुई। भाटागांव, पुरानी बस्ती,शास्त्री बाजार सहित कुछ क्षेत्रों में ठेलों में सब्जियां खरीदने लोगों की भीड़ दिखी। कुछ क्षेत्रों में तो भीड़ देखने पर पुलिस ने वहां सख्ती भी दिखाई।

सेव 200 रुपये किलो

फलों की कीमतों में भी जबरदस्त आग लगी रही। सेव 200 रुपये किलो, अंगूर 120 रुपये किलो, कलंदर 80 रुपये किलो, तरबूज 80 रुपये किलो,केला 50 रुपये दर्जन तक बिका। कारोबारियों का कहना है कि अभी तो इनकी सप्लाई ही नहीं हो पा रही है,ऐसे में कीमतें और बढ़ सकती है।

रास्ते में बिक्री के लिए बैठे कारोबारियों पर सख्ती

पुरानी बस्ती क्षेत्र में कुछ सब्जी काराबारियों द्वारा सड़क किनारे बैठक सब्जियों की बिक्री की जाने लगी। इसके चलते वहां भीड़ की स्थिति बनने लगी। इसे देखकर पुलिस और निगम ने सख्ती दिखाते हुए कारोबारियों को वहां से हटाया और कहा कि केवल ठेलों में ही सब्जियों की बिक्री होगी।

Posted By: Shashank.bajpai
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.