Fake Gas Regulator: आनलाइन बाजार में भी बिक रहा रेग्युलेटर, चल रहा मनमानी कारोबार

Updated: | Sat, 23 Oct 2021 08:30 AM (IST)

रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी में गैस सिलिंडर के नकली रेग्युलेटर मिलने के बाद हड़कंप मच गया है। रायपुर कलेक्टर सौरभ कुमार ने एक दिन पहले ही उपभोक्ताओं से अपील की है वे केवल अधिकृत गैस एजेंसियों से ही रेग्युलेटर प्राप्त करें यदि किसी परिस्थिति में खराब हो जाता है तो गैस एजेंसी से ही दूसरा रेगुलेटर प्राप्त करें, लेकिन यहां आनलाइन कई कंपनियां इसे धड़ल्ले से बेच रही हैं।

आनलाइन वेबसाइट पर कुछ कंपनियां उपभोक्ताओं को सस्ते रेग्युलेटर को आफर कर रही हैं। जबकि नियमानुसार जो कंपनी गैस सिलिंडर देती है उसी कंपनी से रेग्युलेटर लेना है। सहायक खाद्य नियंत्रक संजय दुबे के मुताबिक अधिकृत कंपनी ही रेग्युलेटर बेच सकती हैं यदि कोई दूसरा बेच रहा है तो अवैध है। इसकी शिकायत मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

लापरवाही ले सकती है जान

विशेषज्ञों के मुताबिक, गैस कनेक्शन खरीदते समय उपभोक्ता कीमतों पर ध्यान देते हैं। असल में रेगुलेटर का मामला आपकी जेब ही नहीं, आपके जीवन से भी जुड़ा होता है। कनेक्शन लेते समय रेग्युलेटर खराब हो जाने की स्थिति में अतिरिक्त सावधानी रखी जाना चाहिए। एक तरफ गैस कंपनियों का दावा है कि उनके द्वारा केवल उन उपभोक्ताओं को रेग्युलेटर दिया जाता हैं जो उनके अधिकृत गैस एजेंसी से प्रतिभूति राशि जमा करने के बाद गैस कनेक्शन लेते है।

इसके इंस्टालेशन के लिए बाकायदा एजेंसी का कर्मचारी घर जाकर जांच कर बाद प्रमाणित करते हैं। दूसरी तरफ इन्हीं गैस कंपनी हिंदुस्तान पेट्रोलियम, इंडियन आयल, भारत पेट्रोलियम कंपनी के रेग्युलेटर धड़ल्ले से न केवल खुले बाजार में बल्कि आनलाइन भी 280 रुपये में बिक रहे हैं।

एक कंपनी का दावा है कि उन्होंने आनलाइन रेग्युलेटर बेच रही कंपनी को अधिकृत रूप से नोटिस भेज कर अवैध रेग्युलेटर बिक्री को बंद करने के लिए कहा है। बहरहाल, देखना यह है कि पूरे मामले में ये रेग्युलेटर बाजार में कहां से पहुंच रहे हैं।

खाद्य विभाग की छापामार कार्रवाई के बाद आया मामला

गुरुवार को खाद्य विभाग के निरीक्षकों ने ग्राहक बनकर राजधानी के नया पारा में गोलछा एंटरप्राइजेज, जय भारती स्टोर, भारत पात्र भंडार से विभिन्न कंपनियों के नाम पर बिक रहे 196 नकली गैस रेगुलेटर जब्त किया था।

प्रारंभिक जांच के मुताबिक रायपुर में अनेक स्थानों पर बर्तन की दुकानों और गैस भट्टी बेचने वाले दुकानदारों के द्वारा अवैध रूप से मेरठ और दिल्ली से नकली रेगुलेटर बिना बिल के मंगा कर उपभोक्ताओं को बेचा जा रहा है। इसके बाद मामले की जांच तेज हो गई है।

Posted By: Shashank.bajpai