Guidelines For Bursting Crackers: छत्‍तीसगढ़ में दिवाली के दिन केवल दो घंटे पटाखे फोड़ने की छूट

Updated: | Wed, 27 Oct 2021 01:14 PM (IST)

Guidelines For Bursting Crackers: रायपुर (राज्य ब्यूरो)। छत्‍तीसगढ़ में दिवाली पर रात आठ से 10 बजे तक ही पटाखा फोड़ने की अनुमति रहेगी। इसके साथ ही आवास एवं पर्यावरण विभाग ने छठ पूजा, गुरु पर्व, नववर्ष और क्रिसमस के मौके पर भी पटाखा फोड़ने की समय सीमा तय कर दी है।

आवास एवं पर्यावरण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सुब्रत साहू ने ग्रीन ट्रिब्यूनल और सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला देते हुए सभी कलेक्टरों को इसका सख्ती के पालन सुनिश्चित करने के लिए कहा है। आदेश में कहा गया है कि तय समय सीमा में केवल कम प्रदूषण उत्पन्न करने वाले हरित पटाखे ही फोड़े जा सकेंगे।

केवल उन्हीं पटाखों का उपयोग किया जा सकेगा, जिनकी ध्वनि का स्तर निर्धारित सीमा के भीतर है। सीरीज पटाखे या लड़ियों की बिक्री, उपयोग और निर्माण प्रतिबंधित रहेगा। पटाखा में लिथीयम, आर्सेनिक, एंटिमनी, लेड व मर्करी का उपयोग करने वाले पटाखा उत्पादकों का लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा।

आनलाइन बिक्री पर रोक

राज्य में पटाखों की आनलाइन बिक्री पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगी। अफसरों के अनुसार ऐसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

पटाखा फोड़ने की समय सीमा

दिवाली के दिन - रात आठ से 10 बजे तक पटाखे फोड़ने की अनुमति दी गई है।

छठ पूजा के दिन - सुबह छह से आठ बजे तक पटाखे फोड़ने की अनुमति दी गई है।

गुरु पर्व के दिन - रात आठ से 10 बजे तक पटाखे फोड़ने की अनुमति दी गई है।

नववर्ष के दिन - रात 11:55 से 12:30 बजे तक पटाखे फोड़ने की अनुमति दी गई है।

क्रिसमस पर - रात 11:55 से 12:30 बजे तक पटाखे फोड़ने की अनुमति दी गई है।

Posted By: Kadir Khan