स्मार्ट ट्रैफिक व्यवस्था के लिए आटो चालकों की अहम भूमिका

Updated: | Sat, 27 Nov 2021 07:20 AM (IST)

रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी रायपुर महानगर के रूप में विकसित होने के साथ ही साथ स्मार्ट सिटी के रूप में भी तेजी के साथ विकास कर रहा है। स्मार्ट सिटी की तर्ज पर शहर की यातायात व्यवस्था के सुगम सुचारू संचालन के लिए यातायात पुलिस रायपुर द्वारा तरह-तरह के प्रयोग कर व्यवस्था बनाई जा रही है। इसी क्रम में शहर में संचालित सवारी आटो चालकों में एकरूपता लाने एवं स्मार्ट ट्रैफिक व्यवस्था संचालन के लिए यातायात नियमों के पालन कर वाहन चलाने यातायात जन जागरूकता अभियान का शुभारंभ किया गया, जिसका नाम मोर रायपुर, मोर आटो रखा गया है।

मोर रायपुर, मोर आटो यातायात जन जागरूकता अभियान का शुभारंभ शुक्रवार को न्यू बस स्टैंड भाठागांव परिसर में आयोजित किया गया। कलेक्टर सौरभ कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रायपुर प्रशांत अग्रवाल एवं नगर निगम आयुक्त प्रभास मलिक की उपस्थिति में संपन्ना हुआ। कार्यक्रम के शुभारंभ में उप पुलिस अधीक्षक यातायात रायपुर सतीश कुमार ठाकुर द्वारा मोर रायपुर, मोर आटो यातायात जन जागरूकता अभियान का उद्देश्य बताया।

यह है कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य

पहला : शहर में संचालित सभी प्रकार के सवारी आटो चालकों का चरित्र सत्यापन करना जिन आटो चालकों का चरित्र सत्यापन पूर्व मे हो चुका है उन्हें अपना एड्रेस अपडेट कराना पड़ेगा, गोला नंबर वही रहेगा। लेकिन जिन्हें गोला नंबर नहीं मिला है वह 31 दिसंबर तक यातायात पुलिस रायपुर के पास अपना चरित्र सत्यापन फार्म भरकर जमा करेंगे ताकि आवश्यकता पड़ने पर तत्काल आटो चालक मालिक से संपर्क किया जा सके।

दूसरा : स्मार्ट सिटी की तर्ज पर स्मार्ट आटो का संचालन किया जाना जिसमें आटो चालकों का जो गणवेश निर्धारित किया गया है। उसी के तहत आटो का संचालन करना, ताकि सभी आटो चालकों में समानता दिखाई दे।

तीसरा : शहर के भीतर आटो स्टापेज का निर्धारण करना जिसके तहत प्रमुख मार्गों पर एक निर्धारित स्थल पर आटो स्टापेज का निर्माण कर रजिस्टर्ड आटो का संचालन किया जाना और एक निर्धारित मार्ग पर ही आटो का संचालन किया जाना।

चौथा: आटो संबंधी समस्त दस्तावेजों का दुरुस्तीकरण पूर्व में कोरोना काल के दौरान केंद्र सरकार द्वारा यात्री वाहनों में परमिट, फिटनेस की वैधता में छूट प्रदान की गई थी।लेकिन अब सभी वाहन चालकों को परमिट फिटनेस इंसुरेंस सहित अन्य दस्तावेज दुरुस्त करना आवश्यक होगा।

आटो चालकों की भूमिका अहम :

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रायपुर प्रशांत अग्रवाल ने यातायात व्यवस्था को सुगम सुरक्षित बनाने में आटो चालकों की भूमिका बताया।उन्होंने कहा कि कोई भी बाहर से आने वाला व्यक्ति का सामना सबसे पहले शहर के आटो चालकों से होता है, जो आटो चालकों के व्यवहार से शहर में यातायात व्यवस्था की स्थिति का पता लगा लेता है।

आटो चालकों ने की स्टापेज की मांग :

कार्यक्रम के दौरान कलेक्टर सौरभ कुमार ने उपस्थित आटो चालकों को बधाई देते हुए उनके द्वारा आटो स्टापेज की मांग को जायज बताया। उन्होंने कहा कि प्रशासनिक स्तर पर जल्द से जल्द आटो स्टापेज का निर्माण करने एवं रूट प्लान तैयार कर निर्धारित रूट पर आटो संचालन की व्यवस्था करने का आश्वासन दिया गया।

Posted By: kunal.mishra