आनलाइन संगीत सभा में कोलकाता के गायक ने दी प्रस्तुति

Updated: | Mon, 29 Nov 2021 11:27 AM (IST)

रायपुर ( नईदुनिया प्रतिनिधि )। संगीत गुरु गुणवंत माधवलाल व्यास फाउंडेशन के नेतृत्व में फेसबुक पर कोलकाता के युवा सुगम गायक शुभोजीत दासगुप्ता ने सुगम गायन की प्रस्तुति दी। कोलकाता की रबिंद्र भारती विश्वविद्यालय से संगीत स्नातकोत्तर दासगुप्ता ने अपने कार्यक्रम की शुरुआत सूरदास के भजन-रे मन कृष्ण नाम कहि लीजे से की। इसके बाद उन्होंने क्रमशः तुलसी कृत-गोपाल गोकुल वल्लभी, कबीरदास कृत-बीत गए दिन भजन बिना रे, तुलसीदास कृत-ठुमकी चलत राम चन्द्र और मैं हरि पतित पावन सुने के बाद मीराबाई कृत भजन-चलो मन गंगा जमुना तीर, की प्रस्तुति दी।

भजनों के बाद मेंहदी हसन साहब की प्रसिद्ध गजल-रफ्ता रफ्ता वो मेरी हस्ती का समां हो गए, गाकर श्रोताओं को मुग्ध कर दिया। उन्होंने अपने कार्यक्रम का समापन प्रसिद्ध दादरा-कन्हैया बिन नैया मोरी गाकर किया। तबले पर उनके पिता स्वपन दासगुप्ता ने सधी हुई संगत दी। इस कार्यक्रम का श्रोताओं के लिए फेसबुक से लाइव किया गया। श्रोताओं ने खूब लाइक किया और उनके कार्यक्रम में लगातार दाद दी।

संयोजक दीपक व्यास ने बताया कि यह 70वीं प्रस्तुति थी। गुनरस पिया की सभा में अब तक देश-विदेश के गुणी कलाकारों ने गायन,तबला-वादन,सितार-सरोद-सारंगी-संतूर वादन की प्रस्तुतियां दीं हैं। युवा एवं नवोदित कलाकारों को रविवासरीय संगीत सभा के माध्यम से जन जन तक पहुचाने का कार्य संस्था द्वारा अनवरत जारी है।गुनरस पिया फाउंडेशन द्वारा कोरोना काल में देश-विदेश के कलाकारों को फेसबुक के माध्यम से कार्यक्रम प्रस्तुति के लिए अवसर दिया जा रहा है। गुनरस पिया फाउंडेशन शास्त्रीय संगीत के संरक्षण एवं प्रचार प्रसार के लिए लगातार कार्य कर रहा है।

Posted By: Ravindra Thengdi