छत्तीसगढ़ में निकाय चुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवारों की सूची जारी, नाम तय करने छह घंटे चली बैठक

Updated: | Wed, 01 Dec 2021 10:10 AM (IST)

रायपुर (राज्य ब्यूरो)। छत्तीसगढ़ के नगरीय निकाय चुनाव में उम्मीदवार चयन के लिए कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक राजीव भवन में मंगलवार को हुई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मौजूदगी में करीब छह घंटे चली बैठक में एक नाम वाले पार्षद उम्मीदवारों के नाम पर मुहर लग गई। छत्तीसगढ़ में नगरीय निकाय चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपनी पहली सूची जारी कर दी है। मंगलवार की रात जारी सूची में नगर पालिका परिषद खैरागढ़, नगर पालिका परिषद जामुल, नगर पंचायत भैरमगढ़, नगर पंचायत नरहरपुर, नगर पंचायत कोन्टा, नगर पंचायत भोपालपटनम, नगर पंचायत मारो के लिए कांग्रेस के वार्ड प्रत्याशियों के नाम शामिल हैं।

बैठक के बाद मीडिया से चर्चा में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि सभी वार्ड के नामों पर विचार हुआ है। लगभग सभी नामों पर सहमति बन गई है। कुछ नामों पर आपत्ति आई है, जिसके कारण उन वार्डों में उम्मीदवार चयन के लिए पार्टी फिर से सर्वे कराएगी। मरकाम ने कहा कि उम्मीदवारों के नाम की अभी सूची बनाई जा रही है, जिस पर बाद में मुहर लगेगी।

चुनाव समिति की बैठक कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में दोपहर 12 बजे से शुरू हुई। बैठक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, प्रभारी सचिव चंदन यादव, मंत्री रविंद्र चौबे, ताम्रध्वज साहू, शिव कुमार डहरिया, मोहम्मद अकबर, प्रेम साय सिंह टेकाम, अनिला भेड़िया, रुद्र कुमार गुरु शामिल हुए। इसके साथ ही रामगोपाल अग्रवाल, गिरीश देवांगन, रवि घोष, चंद्रशेखर शुक्ला, सुशील आनंद शुक्ला, देवेंद्र यादव और नीरज पांडेय शामिल हुए। मरकाम ने कहा कि कुछ नगर निगम से तीन से चार वार्ड में नाम को लेकर अंतिम निर्णय नहीं हो पाया है।

मरकाम से जब यह पूछा गया कि टिकट वितरण का आधार क्या है, तो उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी का सदस्य और सर्वे में नाम होना जरूरी है। मरकाम ने कहा कि हम जीतने वाले दावेदार को ही टिकट दे रहे हैं। जिसे पार्टी टिकट देगी, उसकी जीत होगी। वार्डों के उम्मीदवार के नाम पर प्रदेश चुनाव समिति में चर्चा के मुद्दे पर मरकाम ने कहा कि पहले ब्लाक कांग्रेस कमेटी और जिला कांग्रेस कमेटी ने विचार किया है। उसके बाद प्रदेश चुनाव समिति ने विचार किया है। यह एक प्रक्रिया है, अंतिम निर्णय प्रदेश चुनाव समिति ही करेगी।

Posted By: Arvind Dubey