HamburgerMenuButton

Unlock 1.0 in Chhattisgarh : छत्तीसगढ़ से जल्द जारी हो सकती है नई गाइडलाइन, इन इलाकों में होगी छूट

Updated: | Sat, 30 May 2020 08:13 PM (IST)

रायपुर। Unlock 1.0 in Chhattisgarh केंद्र सरकार ने लॉकडाउन 5.0 के स्थान पर अब Unlock 1.0 शब्द को इस्तेमाल करते ही नए दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। केंद्र सरकार ने 30 जून तक के लिए कुछ क्षेत्रों में छूट देने का ऐलान किया है। इन नियमों के आधार पर जल्द ही छत्तीसगढ़ में भी नई गाइडलाइन जारी हो सकती है।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार के निर्देश पर पूरे देश में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए दो महीने का सख्त लॉकडाउन लागू रहा। चरणबद्ध रूप से सरकार ने इसे चार चरणों में आगे बढाया। इसके बाद आर्थिक गतिविधियों के हो रहे नुकसान और लोगों की खराब होती माली हालत की वजह से लॉकडाउन की पाबंदियों को हटा दिया गया। इस पूरे प्रक्रम के बीच लॉकडाउन हटने के साथ ही कई राज्यों में कोरोना संक्रमण का खतरा एक बार फिर बढने लगा है।

छत्तीसगढ में भी बेहद तेजी के साथ कोराेना वायरस संक्रमण के मामले बढे हैं। इसी के साथ लॉकडाउन 0 5 की चर्चा शुरू हो गई है। कहा जा रहा है कि केंद्र सरकार की ओर से एक जून से दोबारा 15 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की जा सकती है।

यदि लॉकडाउन के पांचवे चरण को लागू किया जाता है तो ग्रीन जोन वाले क्षेत्रों को सख्त पाबंदियों से मुक्त रखा जाएगा, लेकिन यहां धारा 144 पूरी तौर पर लागू रहेगी, ताकि भीड की स्थिति कहीं भी निर्मित न हो। इसके साथ ही मास्क लगाना और फिजिकल डिस्टेंसिंग के पालन सहित सफाई का ध्यान रखना पूरी तरह जरूरी होगा।

यह है संक्रमण के ताजा हालात

कोरोना संक्रमण के मामले एक ओर राज्य में तेजी के साथ बढ रहे हैं, दूसरी ओर बाजार की खराब हालत और लोगों की व्यक्तिगत रूप से कमजोर होती आर्थिक स्थित को भी संभालना जरूरी है। राज्य सरकार इन सभी चीजों पर विचार करते हुए नीतिगत फैसले ले रही है। ताजा आंकडों के अनुसार राज्य में अब तक काेराेना वायरस के कुल 61771 संभावित व्यक्तियों की पहचान कर सेंपल जांच की गई है। अभी तक के 59585 परिणाम निगेटिव प्राप्त हुए हैं और 1788 की जांच जारी हैं। आईआरएल रायपुर में अब तक कुल 3933 सैंपल की स्क्रीनिंग की गई। राज्य में एक्टिव मामलों की संख्या 321 जा पहुंची है। जबकि लॉकडाउन की अवधी में यह आंकडा दहाई के अंक तक ही रुका हुआ था।

बाजार-व्यवसाय के लिए फिलहाल यह छूट

प्रशासन ने फैसला लिया है कि अब आगामी शनिवार और रविवार को रायपुर शहर में पूर्ण लॉकडाउन लागू नहीं रहेगा। इस दिन बाजार खुल सकेंगे और लोग बाहर निकल सकेंगे। इसके साथ अब हफ्ते में पूरे सात दिन आर्थिक गतिविधियां जारी रहेंगी। कंटेनमेंट जोन को छोड़कर जिले में सभी शासकीय कार्यालय संचालित होंगे। दुकानें और व्यावसायिक संस्थान सप्ताह के छह दिन सवेरे 7 बजे से शाम 7 बजे तक खुले रहेंगे। स्ट्रीट वेंडरों के लिए स्थानीय निकाय तय करेंगे स्थान और समय। अंतर्राज्यीय बसों का परिचालन प्रतिबंधित रहेगा। रेड और आरेंज जोन का निर्धारण स्वास्थ्य विभाग द्वारा किया जाएगा। प्रत्येक क्वारंटाइन सेंटर के लिए प्रभारी अधिकारी और क्वारंटाइन सेंटर के समूहों की निगरानी के लिए जोनल अधिकारी तैनात किए जाएंगे।

विवाह समारोह में अब 50 लोग हो सकेंगे शामिल

सरकार ने शादी के सीजन को देखते हुए विवाह समारोहों के आयोजन के लिए भी रियायत की घोषणा की है। अब शादी समारोहों में अधिकतम 50 लोग शामिल हो सकेंगे। इसके अलावा अंतिम संस्कार में अधिकतम 20 व्यक्तियों को शामिल होने की अनुमति मिलेगी। विवाह समारोह और अंतिम संस्कार जैसे कामों के लिए अब भी एसडीएम और तहसीलदार की अनुमति आवश्यक होगी।

सार्वजनिक परिवहन प्रणाली को वापस पटरी पर लाने की शुरूआत

दो महीनों के लॉकडाउन के दौरान सार्वजनिक परिवहन सेवा भी पूरी तरह बंद रही। ऑटो- टैक्सी और सिटी बसों के पहिए पूरी तरह थमे रहे। लॉकडाउन में रियायत मिलने के साथ अब सरकार ने सार्वजनिक परिवहन प्रणाली को वापस पटरी पर लाने की शुरूआत कर दी है। राज्य में 29 मई से आवागमन के लिए ऑटो- टैक्सी चलाने की अनुमति मिल गई है।

इस संबंध में परिवहन आयुक्त ने आज आदेश जारी किए हैं। इसके साथ ही एक जिले से दूसरे जिले तक टैक्सी- ऑटो चलाने की भी अनुमति दी जाएगी, लेकिन इसके लिए शर्तें तय की गई हैं। राज्य परिवहन आयुक्त की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि ई पास लेकर अब प्रदेश में एक जिले से दूसरे जिले में टैक्सी और ऑटो चलाने की मिली अनुमति ली जा सकेगी। यह सशर्त ई पास जिला प्रशासन की ओर से जारी किया जाएगा।

राज्य के सभी कलेक्टर, एसपी को इस संबंध में आदेश जारी कर दिया गया है। एक जिले से दूसरे जिले की यात्रा के लिए ई पास अनिवार्य होगा। इसके लिए वेबलिंक https://epass.cgcovid19.in पर मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड आवेदन किया जा सकता है। बिना अनुमति एक जिले से दूसरे जिले की यात्रा पर दंडात्मक प्रावधान भी किए गए हैं। यात्रा के दौरान अनिवार्य रूप से मास्क लगाना होगा और स्वच्छता के नियमों के साथ ही फिजिकल डिस्टेंसिंग का पूरी तरह पालन करना होगा।

Posted By: Himanshu Sharma
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
Next