HamburgerMenuButton

Mahadev kitchen: महादेव की रसोई से 500 जरूरतमंदाें को रोजाना करा रहे भोजन

Updated: | Wed, 12 May 2021 04:04 PM (IST)

रायपुर। Mahadev kitchen: पिछले एक माह से अधिक समय से राजधानी में लाकडाउन लगा होने से रोज कमाने-खाने वालों के समक्ष दो वक्त की रोटी की समस्या पैदा हो गई है। इनके अलावा स्टेशन, अस्पताल, बस स्टैंड के समक्ष घूमने वाले निराश्रितों को भी परेशानी उठानी पड़ रही थी। इसे देखते हुए नहरपारा स्थित नीलकंठेश्वर महादेव मंदिर के पुजारी ने समाजसेवियों के साथ मिलकर मंदिर परिसर में ही महादेव की रसोई का शुभारंभ किया।

इस रसोई में प्रतिदिन 500 लोगों के लिए भोजन बनवाया जा रहा है। इसे सेवादार पैकेट्स में जरूरतमंदों तक पहुंचा रहे हैं ताकि कोई भी भूखा न रहे। श्री नीलकण्ठ सेवा संस्था के संस्थापक पंडित नीलकंठ त्रिपाठी ने बताया कि प्रतिदिन 500 से 1000 लोगो का मंदिर परिसर में महादेव की रसोई में भोजन बनाकर जरूरतमंदो को वितरण किया जा रहा है।

लॉकडाउन के कारण कई लोगों को भोजन नहीं मिल रहा था। भोजन बनाने के बाद उसे पार्सल पैकेट में पैक कर बस स्टैंड में, रेलवे स्टेशन के बाहर यात्रियों को, हॉस्पिटलों में मरीज के परिजनों को भोजन परोसा जा रहा है। महादेव की रसोई रायपुर के अलावा दुर्ग सहित अन्य जिले में भी चल रही है।

राजधानी में महादेव की सेना के रूप में उज्ज्वल मिश्रा, दीपेश बलानी, सोनू गोस्वामी, राजेश मोहरे एवं दुर्ग जिला में सुशील पांडेय, ऋषि पांडेय,जितेश मिश्रा आदि रसोई में सहयोग दे रहे हैं। अब अन्य शहरों में भी सेवादारों के माध्यम से महादेव की रसोई का संचालन किया जाएगा। दावा किया जा रहा है कि यह सेवा लाकडाउन खत्म होने के बाद भी जारी रहेगी।

Posted By: Azmat Ali
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.