HamburgerMenuButton

Nagarnar Steel Plant: श्रमिक संगठनों ने रोका नगरनार स्टील प्लांट का रास्ता, हड़ताल शुरू

Updated: | Tue, 22 Jun 2021 09:36 AM (IST)

जगदलपुर। Nagarnar Steel Plant: नगरनार स्टील प्लांट के संचालन और रखरखाव की जिम्मेदारी लेने वाली सरकारी कंपनी मेकान लिमिटेड के अधिकारियों के स्टील प्लांट के दौरे के विरोध में श्रमिक संगठनों ने मंगलवार सुबह अचानक हड़ताल कर दी है। सुबह सात बजे से आल इंडिया एनएमडीसी वर्कर्स फ़ेडरेशन के स्थानीय श्रमिक नेता गेट के बाहर प्रदर्शन कर रहे हैं।

इनका कहना है कि नगरनार स्टील प्लांट की जल्दी कमीशनिंग करके विनिवेशीकरण करने की तैयारी की जा रही है। इसीलिए मेकान के निदेशक, सलाहकार की टीम स्टील प्लांट में कमीशनिंग की तैयारी देखने आ रही है। इधर, हड़ताल की सूचना पर स्टील प्लांट प्रबंधन ने श्रमिक नेताओं से चर्चा कर समझाने की कोशिश कि लेकिन श्रमिक अपने निर्णय पर अडिग हैं।

स्टील प्लांट के निदेशक प्रशांत दास का कहना है कि मेकान नगरनार स्टील प्लांट के निर्माण में सलाहकार कंपनी है। 10 साल से यह एनएमडीसी के साथ इस प्लांट में काम कर रही है। दोनों कंपनियों के अधिकारी आते-जाते रहते हैं। श्रमिक संगठनों को यह बात समझना चाहिए।

इधर, संयुक्त इस्पात मजदूर संघ नगरनार के सचिव का कहना है कि फेडरेशन स्टील प्लांट के डिमर्जर और विनिवेश का विरोध पांच सालों से कर रहा है। कमीशनिंग करके प्लांट को बेचने की योजना के तहत काम किया जा रहा है। एनएमडीसी प्रबंधन फेडरेशन को विश्वास में लिए बिना काम कर रहा है, जिसका श्रमिक विरोध करते हैं।

बता दें कि श्रमिक संगठनों का आरोप है कि नगरनार स्‍टील प्‍लांट को केंद्र सरकार बेचने की बात कर रही है। वहीं छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल पहले ही घोषणा कर चुके हैं कि राज्‍य सरकार प्‍लांट को बचाएगी। राज्‍य सरकार इसे खुद खरीद सकती है।

Posted By: Azmat Ali
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.