क्रेडिट कार्ड के इंश्योरेंस चार्ज से बचाने का झांसा, इंजीनियर के खाते से निकाले 99 हजार

Updated: | Sun, 05 Dec 2021 11:03 AM (IST)

रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी में एक इंजीनियर युवती के साथ आनलाइन ठगी का मामला सामने आया है। पीड़िता की शिकायत पर कोतवाली थाना पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

कोतवाली थाने में पीड़िता सोनल तिवारी ने रिपोर्ट दर्ज करवाई। पीड़िता सीनेक्रान आइटी कंपनी पुणे महाराष्ट्र में कार्यरत है। युवती ने बताया कि उसके पास दो दिसंबर को फोन नंबर 91-2226531122 से काल आया। फोन धारक ने अपना नाम अविनाश और खुद को आइसीआइसीआइ बैंक का कर्मचारी होना बताया।

उसने बताया कि बैक के क्रेडिट कार्ड पर 2,499 रुपये के सालाना इंश्योरेंस की रकम कटने से बचाने की बात कह कर झांसे में लिया। इसके बाद फोन धारक ने एक मैसेज भेजा और ओटीपी पूछ लिया। ओटीपी बताते ही अकाउंट से 99,780 रुपये निकाल लिए गए। पैसे कटने के बाद युवती को ठगी का एहसास हुआ तो उसने थाने और साइबर सेल में शिकायत दर्ज करवाई।

ढाई किलो गांजा के साथ एक गिरफ्तार

रायपुर में एसएसपी के मादक पदार्थों और जुआ सट्टा पर रोक लगाने के निर्देश के बाद कोतवाली पुलिस ने ढाई किलो गांजा के साथ एक आरोपित को गिरफ्तार किया। आरोपित गांजा बेचने के लिए ग्राहकों की तलाश कर रहा था। उसी समय मुखबिर ने कोतवाली पुलिस को सूचना दी की कालीबाड़ी के पास एक युवक गांजा बेच रहा है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने गांधी नगर कालीबाड़ी निवासी जावेद मेमन को गिरफ्तार किया। उसके पास झोले की तलाशी लेने में उसमे से पुलिस ने गांजा बरामद किया। पुलिस ने उसके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत अपराध दर्ज किया है।

Posted By: Ravindra Thengdi