रायपुर के जैन संवेदना ट्रस्ट ने की मांग- कोरोना पीड़ित जनता को टैक्स में राहत दें

जैन संवेदना ट्रस्ट ने मांग की है कि हर 30 किलोमीटर में लिए जाने वाले बेतहाशा टोल टैक्स को कम किया जाना चाहिए।

Updated: | Mon, 17 Jan 2022 04:05 PM (IST)

रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। दो सालों से कोविड 19 से त्रस्त जनता को केंद्र सरकार कर में छूट की वैक्सीन देकर राहत पहुंचाए। यह मांग जैन संवेदना ट्रस्ट ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर की है।

जैन संवेदना ट्रस्ट के महेन्द्र कोचर एवं विजय चोपड़ा ने पत्र में लिखा है कि दो वर्षों से आम जनता , व्यापारी , उद्योगपति, नौकरीपेशा वर्ग की आमदनी पर असर पड़ा है। लाखों लोगों के व्यापार बंद हो गए हैं। कई उद्योग धंधे चौपट हो गए, लोग बेरोजगार हो गए हैं। लाकडाउन के बाद उपभोक्ता वस्तुओं के दामों में 20 से 35 प्रतिशत तक वृद्धि हुई है। जिससे आम जनता की महंगाई के कारण कमर टूट गई है।

इसे देखते हुए जीएसटी, उत्पाद शुक्ल, आयकर की दरों में 20 से 30 प्रतिशत की छूट प्रदान करें ताकि जनता को राहत मिले। सरकार का उद्देश्य केवल कर संग्रह कर देश चलाना नही होता बल्कि आपदा काल में जनता को राहत पहुंचाना मुख्य उद्देश्य होना चाहिए। कर संग्रह के लक्ष्य को इस साल भुला देना चाहिए जिससे जनता का जीवनस्तर ऊंचा उठ सके। आम जनता की अर्थ व्यवस्था पटरी पर आए इसलिए कर में राहत जरूरी है।

टोल टैक्स कम करें

जैन संवेदना ट्रस्ट ने मांग की है कि हर 30 किलोमीटर में लिए जाने वाले बेतहाशा टोल टैक्स को कम किया जाना चाहिए। यह भी महंगाई का कारण है, जिसका सीधा असर आम जनता पर पड़ रहा है। इसमें भी 25 से 30 प्रतिशत की छूट देनी चाहिए। जनता के लिए यह एक बूस्टर डोज़ के समान होगा।

Posted By: Kadir Khan