HamburgerMenuButton

School Education : केंद्रीय विद्यालय छापेगा काव्य मंजरी , पांच नवंबर तक मंगाई रचनाएं

Updated: | Thu, 29 Oct 2020 01:13 PM (IST)

रायपुर। School Education : केंद्रीय विद्यालय संगठन (केवीएस) की 14वीं वार्षिक पुस्तक 'काव्य मंजरी' में आपकी रचनाएं प्रकाशित होंगी। इसके लिए बस पांच नवंबर तक अपनी कविता केवीएस को भेजनी होगी। केंद्रीय विद्यालय संगठन की ओर से हर साल वार्षिक काव्य मंजरी पुस्तक का प्रकाशन किया जाता है जिसमें केवी कर्मचारियों द्वारा स्वरचित गीत, गजल, कविता का संग्रह होता है। केवीएस ने इस बार भी पुस्तक के लिए कविता मांगी है।

इस संबंध में जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि पुस्तक के लिए सभी स्टाफ सदस्य अपनी मौलिक रचनाएं भेज सकते हैं। जो कि हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में हो सकती हैं। राजधानी में केवी एक, दो के अलावा नया रायपुर में केवी विद्यालय तीन खोला गया है। केवी एक में दो पाली चल रहा है।

छत्तीसगढ़ में करीब 35 केंद्रीय विद्यालय संचालित हैं।

मेडिकल छात्रों से विलंब शुल्क न लेने के निर्देश

छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान परिषद (MCI - Chhattisgarh Medical Council) में पंजीयन के लिए मार्च-2020 में परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले मेडिकल छात्र-छात्राओं से इस साल दिसंबर तक विलंब शुल्क नहीं लिया जाएगा। कोविड-19 की परिस्थितियों को देखते हुए एमसीआई को इस वर्ष छात्रों से विलंब शुल्क नहीं लेने के निर्देश दिए थे। एमसीआई ने इस संबंध में सूचना जारी कर दी है।

एमसीआई द्वारा जारी सूचना में कहा गया है कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण प्रदेश में 22 मार्च से 31 मई तक लाकडाउन लागू किया था। इसकी वजह से इस साल मार्च में परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले चिकित्सकों को पंजीयन में देर हुई। पंजीयन के लिए विलंब शुल्क से राहत देते हुए उन्हें दो महीने का अतिरिक्त समय दिया गया था। स्वास्थ्य मंत्री के निर्देश के बाद अब एमसीआई ने विलंब शुल्क नहीं लेने का फैसला दिसंबर-2020 तक बढ़ा दिया है।

Posted By: Himanshu Sharma
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.