Crime News: रायपुर में महिला की हत्या की गुत्थी 72 घंटे बाद भी नहीं सुलझी, बाहरी गिरोह की आशंका

Updated: | Sat, 23 Oct 2021 11:03 AM (IST)

रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। टिकरापारा थाना क्षेत्र में महिला की हत्या की गुत्थी 72 घंटे बीतने के बाद भी नहीं सुलझी है। अब तक आरोपियों का पता नहीं चल सका है। कुछ संदेहियों को पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ की, लेकिन मुख्य अपराधियों को कोई भी सुराग नहीं मिला है। पुलिस को संपत्ति विवाद हत्या की वजह लग रहा था, लेकिन बाहरी गिरोह होने की आशंका पर दूसरे राज्यों के लिए टीम को रवाना कर दिया गया है।

बतादें कि 19 अक्टूबर को 55 वर्षीय शकुंतला यादव की उसके घर में गला घोटकर हत्या कर दी गई। महिला के हाथ-पैर और मुंह बंधे हुए थे। वहीं अलमारी में रखा सोने चांदी का जेवर गायब था। पुलिस ने घटना के बाद ही तत्काल कुछ संदेहियों को हिरासत में लेकर पूछताछ की लेकिन कुछ हाथ नहीं लगा है। मोबाइल लोकेशन के आधार पर पुलिस जानकारी जुट रही है।

दूसरे राज्य टीम रवाना

पुलिस को सीसीटीवी और मोबाइल की लोकेशन के आधार पर कुछ अहम क्लू मिले हैं। जिसके आधार पर साइबर सेल और टिकरापारा थाना पुलिस टीम रवाना हुई है।

मेडिकल स्टोर में काम करने वाला घटना से कुछ देर पहले आया था घर

मृतक महिला की बेटी सीमा यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि घटना के दिन मां को कुछ दवा देनी थी। जिस पर पूर्व परिचित एक मेडिकल दुकान वाले को फोन कर दवा भेजने के लिए कहा गया। दुकान से एक लड़का घर गया, लेकिन घर में कोई नहीं था। इसकी जानकारी उसने फोन कर सीमा को दी थी। पुलिस ने संदेह के आधार पर दवा पहुंचाने गए युवक को पूछताछ के लिए थाने बुलाया। वहीं, घर में पुताई करने वालों से पूछताछ की गई।

मां-बेटे का चल रहा था विवाद

बोरियाखुर्द में दुकान को लेकर मां और बेटे अजय यादव के बीच आए दिन विवाद होता था।मां चाहती थी कि दूसरे बेटा जो जेल में है उसे भी वहां का हिस्सा मिले।लेकिन यह बाद अजय को यह बात पसंद नहीं थी। इसी बात पर आए दिन विवाद होता था। छोटा बेटा डकैती के मामले में सजा काट रहा है।

वर्जन

टीम लगी हुई है। कुछ अहम जानकारी हाथ लगी है। संदेहियों से लगातार पूछताछ की जा रही है।

- प्रशांत अग्रवाल, एसपी, रायपुर

Posted By: Shashank.bajpai