शाल में छिपाकर महिला बेंच रही थी नशे की गोलियां, सटीक मुखबिरी पर पुलिस ने दबोचा

Updated: | Mon, 29 Nov 2021 10:33 AM (IST)

रायपुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। रायपुर के डीडी. नगर थाना क्षेत्र में जोगी बंगला के पास शाल में छिपाकर प्रतिबंधित नशीली दवा की गोलियां बेच रही महिला को पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गिरफ्तार किया। शाल में छिपाकर रखी नशीली दवा के 56 टैबलेट को पुलिस ने बरामद किया। डीडी नगर में जोगी बंगला के पास की रहने वाली महिला लक्ष्मी मानिकपुरी के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई की है। पुलिस के मुताबिक आरोपित महिला लक्ष्मी मानिकपुरी पालीथिन में नशीली दवा की गोलियों को शाल में छिपाकर रखी थी। जांच में दवाओं का कोई दस्तावेज नहीं देने से उसके खिलाफ नारकोटिक्स एक्ट के तहत अपराध पंजीकृत किया है।

गाड़ी एजेंसी के कैशियर ने की 18 लाख रुपये की गड़बड़ी, केस दर्ज

राजधानी रायपुर में एक मोटर्स एजेंसी के कैरियर द्वारा लाखों रुपये की गड़बड़ी का मामला सामने आया है। कैशियर के खिलाफ पंडरी थाना पुलिस ने धार 408 के तहत अपराध कायम किया है।आरोपित ने लगभग 19 लाख रुपये का गबन किया है।अब पुलिस मामले की जांच कर रही। पंडरी थाने में शिवनाथ मोटर्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड मोवा के प्रबंध संचालक नरेंद्र पटले ने रिपोर्ट दर्ज करवाई।उन्होंने बताया कि महेन्द्रा शिवनाथ मोटर्स प्राइवेट लिमिटेड में नई एवं पुरानी गाड़ियों की बिक्री की जाती है।

अजय कुमार गुप्ता एजेंसी में कैशियर के पद पर कार्यरत था जो अपने कार्यकाल में गाड़ी की बिक्री रकम ग्राहकों से नगदी लेकर रसीद काटकर बाद में रसीद निरस्त रिपोर्ट करके कंपनी के रकम लगभग 18,34,550 रुपये का गबन किया। गबन की जानकारी मिलने के बाद थाने में शिकायत की गई।आरोपित ग्राहकों नगद राशि जमा करने वाले ग्राहक से राशि लेकर रसीद काटता था। बाद में उस रसीद को निरस्त रिपोर्ट करता था। ऐसे कई ग्राहक हैं जिन्होंने इसकी शिकायत एजेंसी में की। इसकी जांच पर सारा सच सामने आया।

Posted By: Ravindra Thengdi