HamburgerMenuButton

International Womens Day 2021 : महिला दिवस पर जरूर देखना चाहिए ये शानदार 5 फिल्में

Updated: | Mon, 08 Mar 2021 10:29 AM (IST)

नई दिल्ली International Womens Day 2021 । महिला अधिकारों और लैंगिक समानता के बारे में जागरूक करने के लिए हर साल 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है। महिलाओं को जागरूक करने में बॉलीवुड भी पीछे नहीं हैं, कई ऐसी फिल्में है, जिसमें महिला अधिकारों और उनके पक्ष को मजबूती के साथ रखा गया है। महिला दिवस पर आप भी इन 5 फिल्मों को देखकर महिला अधिकारों और उनके मुद्दों को लेकर अपनी समझ बढ़ा सकते हैं-

क्वीन

क्वीन फिल्म में लीड रोल में एक्ट्रेस कंगना रनौत हैं। फिल्म में उनका किरदार एक शांत महिला का है, जो आत्मविश्वास से भरपूर है। कंगना का किरदार एक रूढ़िवादी परिवार से ताल्लुक रखने वाली उस लड़की की कहानी है, जिसकी सुरक्षा के लिए हर वक्त उसका भाई पहरेदार बनकर खड़ा रहता है। फिल्म में तब एक नया मोड़ आता है जब मुख्य किरदार रानी मंगेतर की एक कार एक्सीडेंट में मौत होने के बाद हनीमून पर अकेले जाने का निर्णय करती है।

इंग्लिश विंग्लिश

इंग्लिश विंग्लिश एक कॉमेडी ड्रामा फिल्म है, जिसमें श्रीदेवी कपूर, आदिल हुसैन समेत कई कलाकारों ने अभिनय किया है। फिल्म में एक शशि नाम की कहानी को दिखाया गया है कि जिसे अंग्रेजी नहीं आती, जिसकी वजह से पति और बच्चे कई बार उसका मजाक उड़ाते हैं। हीन भावना से ग्रस्त होकर फिर वह अपने आत्मविश्वास के दम पर अंग्रेजी सीखती हैं।

मैरी कॉम

प्रियंका चोपड़ा अभिनीत फिल्म मैरीकॉम ओमंग कुमार के निर्देशन में बनी यह बायोग्राफिकल स्पोर्ट्स फिल्म है। प्रियंका चोपड़ा ने फिल्म में मैरीकॉम की जिंदगी को, उसके दर्द और परेशानियों को जिया है। मैरीकॉम ने किस तरह का संघर्ष करके वैश्विक स्तर पर अपना शानदार प्रदर्शन किया, इसे फिल्म में बहुत अच्छे से दिखाया गया है।

मदर इंडिया

मदर इंडिया एक बॉलीवुड की एक क्लासिक फिल्म है। फिल्म में नरगिस दत्त की सबसे प्रभावशाली और शानदार भूमिका निभाई है। फिल्म में वह राधा नाम की एक ग्रामीण न्याय प्रिय महिला के किरदार में हैं, जो अपने दो बेटों को पालने के लिए तमाम कठिनाइयों का सामना करती है। वह इंसाफ के लिए गलत रास्ते पर जा रहे अपने बेटे की जान लेने से भी पीछे नहीं हटती।

अर्थ

महेश भट्ट के निर्देशन में बनी फिल्म अर्थ में मुख्य किरदार शबाना आजमी ने निभाया है। जिसमें कुलभूषण खरबंदा की वाइफ के रोल में हैं। कुलभूषण उनके साथ धोखा करके दूसरी औरत स्मिता पाटिल के साथ रहने लगता है। फिल्म दिखाया गया है कि कैसे एक महिला अपने दम पर अकेले रहते हुए सफलता हासिल करते है और पति के पास वापस जाने से इनकार कर देती है।

दामिनी

महिला दिवस पर मीनाक्षी शेषाद्री की फिल्म ‘दामिनी’ का जिक्र तो जरूर किया जाना चाहिए। दामिनी सच्चाई की लड़ाई लड़ने वाली एक महिला की कहानी है। दामिनी की शादी एक अमीर परिवार में होती है, यहां वह अपने जेठ के खिलाफ खड़ी हो जाती है, जो घर की नौकरानी से दुष्कर्म करता है। दामिनी के इस फैसले का पूरा परिवार उसका विरोध करता है। विपरीत परिस्थितियों में उसे घर भी छोड़ना पड़ता है।

Posted By: Sandeep Chourey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.