HamburgerMenuButton

Tandav Web Series: माफी नाकाफी, तांडव के निर्माता-निर्देशक पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार

Updated: | Fri, 22 Jan 2021 07:22 AM (IST)

Tandav Web Series: हिंदू धर्म का अपमान करने के मामले में तांडव वेबसीरीज की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। इसका विरोध सोशल मीडिया के बाद अब राष्ट्रव्यापी हो चुका है। खासतौर पर भाजपा शासित राज्यों में सरकारें Tandav Web Series के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रही हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी हिंदू देवी देवताओं के अपमान से खफा हैं। योगी आदित्यनाथ का रुख को देखते हुए लखनऊ पुलिस ने Tandav Web Series के निर्माता, निर्देशक और लेखक के साथ अमेजन प्राइम वीडियो के संचालकों पर भी शिकंजा कस दिया है। केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। लखनऊ के थाना हजरतगंज में अमेजन प्राइम की इंडिया हेड अपर्णा पुरोहित, वेब सीरीज तांडव के डायरेक्टर अली अब्बास जफर, हिमांशू कृष्ण मेहर और राइटर गौरव सोलंकी के खिलाफ धारा 153A, 295, 505 (1)(b), 505(2), 469, 66, 66f, 67 के तहत एफआईआर दर्ज हो चुकी है। इसके बाद ही वेब सीरीज के निर्माता अली अब्बास जफर समेत सभी कलाकारों ने माफी मांगी। हालांकि भाजपा का कहना है कि माफी काफी नहीं है।

अली अब्बास जफर की माफी: विरोध बढ़ता देख अली अब्बास जफर ने ट्वीट कर मांफी मांगी। उन्होंने लिखा, "तांडव एक फिक्शन है, और इसका किसी भी तरह की घटनाओं और व्यक्तियों से किसी भी समानता पूरी तरह से संयोग है। किसी भी व्यक्ति, जाति, समुदाय, नस्ल, धर्म, या धार्मिक विश्वास या किसी संस्था, राजनीतिक पार्टी या व्यक्ति, जीवित या मृत व्यक्ति की अपमान या अपमान करने कोई इरादा नहीं था। तांडव के कलाकारों ने भी इस पर चिंता जाहिर है और यदि किसी की भावनाएं आहत हुई हैं तो मैं बिना शर्त माफी मांगता हूं।

कंगना भी भड़कीं: इस बीच कंगना रनोट भी विवाद में कूद गई हैं। उन्होंने अली अब्बास जफर के लिए ट्वीट करते हुए लिखा, माफी मांगने केलिये बचेगा कहां? ये तो सीधा गला काट देते हैं, जिहादी देश फतवा निकाल देते हैं, लिब्रु मीडिया वर्चूअल लिंचिंग कर देती है, तुम्हें ना सिर्फ जान से मार दिया जाएगा बल्कि उस मौत को भी जस्टिफाई किया जाएगा, बोलो @aliabbaszafar है हिम्मत अल्लाह का मजाक उड़ाने की ?

Posted By: Arvind Dubey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.