HamburgerMenuButton

Corona curfew in Anuppur : अनूपपुर में 24 मई बढ़ा कोरेाना कर्फ्यू

Updated: | Sun, 16 May 2021 06:48 PM (IST)

अनूपपुर, नईदुनिया प्रतिनिधि। कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए जिले में प्रभावशील कोरेाना कर्फ्यू अवधि 18 मई से बढ़ा कर 24 मई तक कर दी गई है। गया है। यह निर्णय जिला क्राईसेस मैनेजमेंट समिति के सदस्यों से प्राप्त सुझावों के बाद लिया गया है। जिले में संक्रमण लगातार बढ़ रहा है गांव में भी लोग संक्रमित हो रहे हैं इसलिए संक्रमण की चैन को रोकने के लिए यह कोरोना कर्फ्यू एक सप्ताह के लिए और बढ़ा दिया गया है।

घर से निकलने पर पूर्णतः प्रतिबंध : जिला दण्डाधिकारी के आदेश के मुताबिक कोरोना कर्फ्यू दिवसों के दौरान दो/चार पहिया वाहनों का चलन बंद रहेगा। किसी भी व्यक्ति के घर से निकलने पर पूर्णतः प्रतिबंध रहेगा। शासकीय कार्यालयों में सिर्फ राजस्व विभाग, नगरीय निकाय, स्वास्थ्य विभाग, पंचायत विभाग, विद्युत विभाग, पेयजल विभाग तथा पुलिस विभाग आवष्यकतानुसार कर्मचारियों की संख्या में खुले रहेंगे। जिले में संचालित अन्य समस्त शासकीय, अशासकीय, अर्द्धशासकीय कार्यालय पूर्णतः बंद रहेंगे।

सुबह 9 बजे तक कर्फ्यू में रहेगी छूट: नए जारी आदेश के तहत घर-घर जाकर दूध बांटने वाले दूध विक्रेता सुबह 6 बजे से 9 बजे तक प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। जिले में संचालित समस्त मेडिकल स्टोर्स, अस्पताल, टीकाकरण केंद्र भी उक्त प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। सब्जी फल विक्रेता ठेले के माध्यम से इसी समय तक घर-घर जाकर बेच सकेंगे। राशन, किराना तथा पेयजल दुकानों के विक्रेता होम डिलिवरी के माध्यम से प्रातः 6 बजे से प्रातः 9 बजे तक सामान बेंच सकेंगे।

इन्‍हें रहेगी छूट: जिले में संचालित समस्त एल.पी.जी. गैस के संचालक तथा एल.पी.जी. गैस का वितरण होम डिलिवरी के माध्यम कर सकेंगे। स्वास्थ्य विभाग आक्सीजन गैस प्लांट सड़क निर्माण विभाग एवं विद्युत विभाग के समस्त निर्माण कार्य अपने मैदानी अमले सहित पूरी क्षमता के साथ कार्य करेंगे। जिले में संचालित समस्त पेट्रोल पंप खुले रहेंगे। विवाह कार्यक्रम एवं अन्य सामाजिक कार्यक्रम प्रतिबंधित रहेंगे। अंतिम संस्कार में अधिकतम 10 व्यक्ति ही शामिल हो सकेंगे। जिले में संचालित आटा चक्कियां खुल सकेंगी। समस्त मंदिर/मस्जिद तथा अन्य समस्त धार्मिक स्थल आम जन हेतु पूर्णतः बंद रहेंगे। पुजारी, मौलवी संबंधित धार्मिक स्थलों में अधिकतम 05 लोग नियमित पूजा,नमाज आदि कर सकेंगे।

Posted By: Sunil Dahiya
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.