भोपाल में एक हफ्ते में मिले 39 कोरोना संक्रमित, फिर भी 90 फीसद लोग नहीं लगा रहे मास्क

Updated: | Mon, 29 Nov 2021 03:18 PM (IST)

भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना सुस्त भले ही पड़ गया है, पर हारा नहीं है। दुनिया के अलग-अलग हिस्से में वह अपनी ताकत दिखा रहा है। इसने हमारे शहर के भी एक हजार से ज्यादा लोगों की जान ले ली है। यह वायरस नए रूप (वैरिएंट) बदलकर आ रहा है। भोपाल में बीते एक हफ्ते में कोरोना के 39 नए मरीज सामने आए हैं। इसके बाद भी लोग चेत नहीं रहे हैं। भीड़ में भी न तो कोई मास्क लगा रहा है और ना ही शारीरिक दूरी रख रहा है। पुलिस और नगर निगम प्रशासन भी बेफिक्र हो गया है। करीब 90 फीसद लोग मास्क नहीं लगा रहे हैं, फिर भी उन पर जुर्माना नहीं किया जा रहा है। ऐसे में कोरोना का खतरा पहले की तरह बरकरार है।

चौक, न्यू मार्केट, कोलार, भेल सहित शहर के सभी बाजारों में 80 फीसद लोग मास्क नहीं लगा रहे हैं। 20 फीसद लोग मास्क लगा रहे हैं, लेकिन इनमें 10 फीसद ऐसे हैं, जो मास्क मुंह से नीचे कर लेते हैं। इसके अलावा शहर के पर्यटक व सार्वजनिक स्थलों पर लोगों की लापरवाही से कोरोना संक्रमण एक बार फिर बढ़ने की तैयारी कर रहा है। कोरोना अभी गया नहीं हैं, पर हम मास्क लगाना भूल गए हैं। 'नवदुनिया" ने शहर के बाजारों की पड़ताल की तो पता चला कि मास्क लगाने के लिए कोई जागरुकता नहीं बरत रहा है। सुरक्षित शारीरिक दूरी बनाना और सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना तो दूर की बात है। नगर निगम प्रशासन बिना मास्क लगाने वालों पर जुर्माना लगाना भूल गया है। 50 हजार लोगों पर मास्क न लगाने पर प्रति व्यक्ति 100 रुपये जुर्माने की कार्रवाई करके 27 अगस्त के बाद से नगर निगम प्रशासन ने मास्क नहीं लगाने वालों पर कार्रवाई नहीं की है।

न्यू मार्केट : नए शहर का प्रमुख बाजार है। बाजारों में खरीदारी करने आने वाले लोग मास्क लगाए नहीं दिख रहे हैं। इक्का-दुक्का लोग ही ठीक तरह से मुंह व नाक पर मास्क लगाए थे। कई लोग मुंह के नीचे मास्क लगाए हुए दिखे। न्यू मार्केट के बाहर पार्किंग से लेकर हुनमान मंदिर, रोशनपुरा, सुलभ काम्प्लेक्स सहित पूरे न्यू मार्केट अधिकांश लोग बिना मास्क के दिखे।

1300 से अधिक दुकानें।

50 हजार से अधिक लोग रोजाना आना-जाना करते हैं।

5000 हजार लोग ही मास्क लगा रहे हैं।

सभी व्यवसायियों ने लोगों को जागरूक करने के लिए स्टीकर लगाए हैं, जिनमें लिखा है कि पहले मास्क फिर खरीदारी। अधिकांश ग्राहकों को कोरोना के टीके लग चुके हैं। अब जल्द ही तेजी से जागरुकता अभियान शुरू करेंगे।

-अजय देवनानी, सचिव न्यू मार्केट व्यापारी महासंघ

चौक बाजार : पुराने शहर का सबसे बड़ा बाजार है। आसपास जुमेराती, आजाद मार्केट, लखेरापुरा सहित अन्य छोटे-छोटे बाजार लगे हैं। चौक सहित सभी बाजारों में रोजाना बड़ी संख्या में लोग खरीदारी करने पहुंच रहे हैं। इनमें से अधिकांश लोग मास्क नहीं लगा रहे हैं। ग्राहकों व व्यवसाइयों ने सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना बंद ही कर दिया है। ग्राहकों के बीच सुरक्षित शारीरिक दूरी नहीं दिखती है। इससे करोना बढ़ने का खतरा बढ़ गया है।

1.5 लाख से अधिक लोग आना-जाना करते हैं।

25 हजार लोग की मास्क लगा कर आ रहे हैं।

10 हजार से अधिक दुकानें पुराने शहर के सभी बाजारों में।

पुराने शहर के सभी व्यापारियों की ओर से ग्राहकों को मास्क लागने के लिए जागरूक किया जाता है। दुकानों पर अपील के पोस्टर लगवाए हैं। अब कोरोना गाइडलाइन का पालन कराने में तेजी गति लगाएगे।

-नवनीत कुमार अग्रवाल, प्रवक्ता श्री सराफा एसोसिएशन भोपाल

भेल : विजय मार्केट बरखेड़ा, पिपलानी, गोविंदपुरा, बजरंग मार्केट सभी 14 बाजारों में आने वाले ग्राहक मास्क लगाने पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। कुछ लोग मास्क लगाए भी हैं, तो मुंह के नीचे कर लेते हैं। दुकानदारों ने भी सैनिटाइजर की व्यवस्था करना बंद कर दिया है। कुछेक दुकानदार ही मास्क लगाने पर ही ग्राहकों को खरीदारी करने के लिए प्रवेश दे रहे हैं। अधिकांश व्यवसायी गाइडलाइन का पालन करना ही भूल गए हैं।

20 हजार तक लोग आवाजाही करते हैं।

02 हजार के आसपास ही लोग मास्क लगा रहे हैं।

1400 से अधिक दुकानें भेल टाउनशिप में हैं।

कोरोना विदेशों में बढ़ रहा है। केंद्र सरकार को तत्काल प्रभाव से हवाई उड़ाने बंद कर देनी चाहिए। हम व्यवसायी कोरोना से बचाव के लिए खरीदारी को जागरूक कर रहे हैं। नियमों का पालन भी करा रहे हैं।

-रामबाबू शर्मा, अध्यक्ष भेल व्यापारी महासंघ

कोलार : शादियों का सीजन होने से कोलार व आसपास के गांवों में रहने वाले लोग बड़ी संख्या में घरेलू सामान खरीदने आ रहे हैं। चार व दोपहिया वाहनों से लेकर घरेलू वस्तुएं लोग खरीद रहे हैं। इससे बाजारों में भीड़ बढ़ रही है। सराफा, कपड़ा, बर्तन, इलेक्ट्रानिक्स सहित अन्य वस्तुओं को लोग खरीद रहे हैं। इनमें से अधिकतर बिना मास्क ही खरीदारी कर रहे हैं। व्यवसायी भी मास्क नहीं लगा रहे हैं, जिससे कोरोना संक्रमण बढ़ने की संभावना है।

30 हजार से अधिक लोग खरीदारी करने आते हैं।

03 हजार तक ही लोग मास्क लगा रहे हैं।

5000 कोलार क्षेत्र में सभी छोटी-बड़ी दुकाने हैं।

कोरोना कोलार सहित पूरे शहर में कोरोना नहीं बढ़े इसी को लेकर फिर से कोलार व्यापारी महासंघ जन-जागरुकता अभियान चलाएगा। कोरोना बढ़ने से दुकानें बंद होने की नौबत न आए, इसलिए सभी लोग जागरूक हों।

-संजीव मिश्रा, अध्यक्ष कोलार व्यापारी महासंघ

Posted By: Ravindra Soni