मप्र में आपकी सरकार-आपके द्वार अभियान : समस्या हल नहीं हुई तो 15 दिन में फिर लगेगा शिविर

Updated: | Thu, 02 Dec 2021 04:46 PM (IST)

भोपाल(राज्य ब्यूरो)। 'आपकी सरकार-आपके द्वार" अभियान के तहत आयोजित होने वाले शिविरों में हितग्राहियों की समस्याएं सुनी जाएंगी। उनका मौके पर ही निराकरण भी किया जाएगा। ऐसा नहीं हो सका, तो अगले 10 से 15 दिन में उसी स्थान पर फिर शिविर लगाकर प्रकरण हल किए जाएंगे। अभियान 15 नवंबर से शुरू हुआ है, जो 15 जनवरी 2022 तक चलेगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि यह तय किया जाएगा कि अभियान में एक भी पात्र हितग्राही योजना के लाभ से वंचित न रहे। वे शासन स्तर पर नियमित रूप से इसकी समीक्षा करेंगे।

जिले में अभियान का नेतृत्व कलेक्टर करेंगे। प्रत्येक शिविर के लिए एक नोडल अधिकारी नियुक्त होगा। सभी ग्राम पंचायतों और वार्डों में पात्र हितग्राहियों का चयन किया जाएगा। उनसे आवेदन लेकर परीक्षण किया जाएगा। इस प्रक्रिया में ऐसे हितग्राही भी शामिल हो सकेंगे। जिन्हें पहले किसी कारण से योजना का लाभ नहीं मिला है। इन शिविरों में स्थानीय जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाएगा। उन्हीं से हितग्राहियों को हितलाभ बंटवाया जाएगा। शिविरों की तारीख रोस्टर से तय होगी। इन शिविरों में कोरोना के दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए गए हैं।

अंकुर अभियान में रोपे जाएंगे 10 लाख पौधे

अंकुर अभियान के तहत प्रदेश में 19 फरवरी 2022 तक 10 लाख पौधे रोपने का लक्ष्य रखा गया है। सभी कलेक्टरों से तीन दिसंबर तक पूछा गया है कि उनके जिले में कितने पौधे लगाए जाएंगे। पर्यावरण विभाग के प्रमुख सचिव ने जिलों से जानकारी मांगी है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विश्व पर्यावरण दिवस पर अंकुर अभियान की शुरूआत की थी। इसमें अब तक लगभग तीन लाख नागरिक वायुदूत एप पर पंजीयन कर चुके हैं और पांच लाख पौधे रोपकर पहली फोटो एप पर अपलोड कर चुके हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay