Bhopal Crime News: वेब सीरीज आश्रम-3 की शूटिंग का विरोध करने के मामले में चार लोगों की गिरफ्तारी हुई

Updated: | Mon, 25 Oct 2021 10:03 AM (IST)

Bhopal Crime News: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी के अरेरा हिल्स स्थित पुरानी जेल में फिल्म निर्देशक प्रकाश झा की वेबसीरीज आश्रम-3 की शूटिंग चल रही है। इसके नाम को लेकर बजरंग दल ने रविवार शाम छह बजे के करीब विरोध-प्रदशर्न कर वाहनों में तोड़फोड़ की थी। बजरंग दल के लोग प्रकाश झा से मिलने की जिद पर अड़े हुए थे।

जानकारी मिलने पर प्रकाश झा ने बजरंग दल के लोगों को मिलने बुलाया। बातचीत के दौरान बजरंग दल के लोग आक्रोश्ाित हो गए और प्रकाश झा के साथ झूमाझटकी कर उन पर स्याही फेंक दी। हंगामे की सूचना लगते ही भोपाल डीआइजी पुलिस बल के साथ मौके पर पहंुच गए। जहां उन्होंने घटना स्थल का मुआयना कर प्रकाश झा से मुलाकत की और घटनाक्रम को लेकर शिकायत करने के लिए कहा। लेकिन प्रकाश्ा झा ने शिकायत करने के लिए थोड़ा समय मांगा है। रविवार को देर रात तक इस मामले में चार लोगों की गिरफ्तारी हुई है। इसमें अभिजीत सिंह सेमरा, जीवन शर्मा, भानपुरा, दिलीप नानेट न्‍यूमार्केट व करण बिजौरिया रोशनपुरा शामिल है।

वेबसीरीज आश्रम-3 की शूटिंग इन दिनों भोपाल के अलग-अलग स्थानों पर चल रही है। इसी वेबसीरीज का एक हिस्सा जहांगीराबाद के अरेराहिल्स स्थित पुरानी जेल में फिलमाया जाना था। इसके लिए बाकायदा पूरी यूनिट काम कर थी। फिल्म अभिनेता बॉबी देओल और प्रकाश झा अपनी वैनिटी वैन में थे। शाम करीब साढ़े छह बजे बजरंग दल के करीब 300 लोग पुरानी जेल के बाहर प्रदर्शन करने पहुंच गए। बजरंग दल के लोगों ने जेल के बाहर जमकर हंगामा मचाया, जब सुरक्षाकर्मियों ने उनको रोका तो बजरंगियों ने प्रकाश झा से मुलाकत करने की बात रखी। इस पर प्रकाश झा हंगामा करने वालों से मिलने को राजी हो गए। बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को प्रकाश झा ने जेल परिसर के अंदर ही बुला लिया। इसी बीच कार्यकर्ताओं ने प्रकाश झा से झूमाझटकी कर दी और उन पर स्याही फेंक दी। साथ ही नारेबाजी कर उनका विरोध करने लगे। उसके बाद जेल परिसर में खड़े तीन वाहनों में तोड़फोड़ कर दी।

आश्रम नाम को लेकर है विरोध

बजरंग दल के प्रांत संयोजक सुशील सुडेले ने नवदुनिया को बताया कि हमें वेबसीरीज के नाम 'आश्रम" को लेकर आपत्ति है। उन्होंने कहा कि वेबसीरीज में प्रकाश झा ने जिस तरीके के अश्लील दृश्यों का फिल्मांकन किया है, क्या आश्रमों में ऐसा ही होता है? हम प्रकाश झा से पूछना चाहते हैं कि आश्रम के अंदर इसी प्रकार से महिलाओं का शोषण होता है। आश्रम व्यवस्था सनातन धर्म की पवित्र व्यवस्था है। उन्होंने आश्रम-3 नाम ही क्यों नाम रखा, दूसरे किसी धर्म को लेकर उन्होंने कोई नाम क्यों नहीं रखा। हमारी प्रकाश झा से मुलाकात हुई है, उन्होंने नाम बदलने की बात कही है। अगर नाम नहीं बदलते हैं तो फिर से हंगामा करेंगे।

प्रकाश झा बोले थोड़ा समय चाहिए

पुलिस की मानें तो घटना के बाद पुलिस के आला अधिकारियों ने उनसे मुलाकात की। इस दौरान वह प्रकाश्ा झा मानसिक रूप से परेशान थे। पुलिस ने उनसे शिकायत करने के लिए कहा तो उनका कहना था कि उन्हें थोड़ा समय चाहिए। उसके बाद वह कोई निर्णय लेंगे। बता दें कि प्रकाश झा के विरोध की घटनाएं पहले भी सामने आती रही हैं, लेकिन झूमाझटकी और इस प्रकार से उन पर स्याही फेंकने की घटना पहली बार हुई है।

- वेनिटी वैन में बैठे रहे बॉबी देओल

घटना के बाद पुरानी जेल परिसर के बाहर और अंदर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। चारों तरफ पुलिस ने पहरा बैठा दिया है। घटना के समय बॉबी देओल व अन्य अभिनेता, अभिनेत्रियां वेनिटी वैन में ही मौजूद थे।

- बजरंग दल कार्यकर्ताआंें को खदेड़ा

घटना के बाद बजरंगदल के कार्यकर्ताओंं को पुलिस ने मौके से खदेड़ दिया। उसके बाद पुलिस ने कार्यकर्ताओं पर हल्का बल प्रयोग किया। इस घटना के बाद सभी लोग भाग गए। पुलिस उनकी पहचान करने में जुटी हुई है। देर रात तक उनकी गिरफ्तारी हो सकती है।

Posted By: Lalit Katariya