Bhopal Crime News: राजधानी में टीआइ ने थाने में कराई भाई की पदस्थापना

Updated: | Tue, 03 Aug 2021 05:18 PM (IST)

Bhopal Crime News : भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। थाना "प्रभारी ऐशबाग की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। वह पहले से ही सटोरियों और जुआरियों से मिलीभगत के आरोपों

के चलते जांच के दायरे में हैं। अब चर्चा है कि तीन दिन पहले जिस दस पुलिस कर्मियों की पुलिस लाइन से थाना ऐशबाग में नवीन पदस्थापना की गई है उनमें टीआइ के भाई आरक्षक शैलेष अवस्थी का नाम भी शामिल था। चर्चा है कि नीलेश ने भाई की सिफारिश करके उसे ऐशबाग थाने में पदस्थ कराया था। सटोरियों से लेनदेन के आरोप में एसपी साई कृष्णा ने तीन दिन पहले ऐशबाग थाने में पदस्थ एक एएसआइ समेत सात पुलिसकर्मियों को निलंबित किया था। इनके स्थान पर दस पुलिस कर्मियों की नवीन पदस्थापना की गई थी। इनमें नीलेश अवस्थी का छोटा भाई आरक्षक शैलेष भी था। मामला एसपी साउथ की जानकारी में आने के बाद शैलेष अवस्थी का थाना ऐशबाग में किया गया तबादला आदेश निरस्त कर दिया है।

टीआइ हो चुके हैं लाइन अटैच

क्राइम ब्रांच ने सात जुलाई को इंद्रा कालोनी में हिस्ट्री शीटर जुबेर मौलाना के घर दबिश देकर जुए की फड़ पकड़ी थी। यहां से क्राइम ब्रांच ने जुबेर समेत 40 जुआरी गिरफ्तार किए थे। जुआ थाना पुलिस की मिलीभगत से संचालित हो रहा था। मामले में थाना "प्रभारी अजय नायर लाइन अटैच, बीट "प्रभारी एसआइ नीलेश पटेल सस्पेंड और एएसआइ अजय सिंह, हवलदार अशरफ अली, हवलदार मनोज कटियार को लाइन

अटैच किया था। नीलेश अवस्थी इलाके के बदमाशों से परिचित हैं।

वर्जन

शैलेष अवस्थी को तीन दिन पहले ऐशबाग थाने में पदस्थ किया था। जानकारी मिली कि वह थाना "प्रभारी के भाई हैं तो थाने में दूसरे आरक्षक को पदस्थ किया है। -साई कृष्णा एस थोटा, पुलिस अधीक्षक साउथ

Posted By: Lalit Katariya