Bhopal Crime News: लूट की कहानी गढ़ने हाथ में ब्लेड से घाव किए, खुद पर मिर्च पाउडर डाला, धरा गया

Updated: | Fri, 06 Aug 2021 08:24 AM (IST)

Bhopal Crime News: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। डेढ़ लाख रुपये के कर्ज से परेशान एक युवक ने अपने मालिक सुपारी व्यापारी के एक लाख रुपये हड़पने के लिए साजिश रची। इस मामले में उसने अपनी महिला मित्र को भी शामिल कर लिया। योजना के तहत नौकर ने खुद के बाएं हाथ पर ब्लेड से घाव कर लिए। कपड़ों पर मिर्च पाउडर भी डाल लिया। लूट की सूचना मिलते ही मालिक मौके पर पहुंचा और पुलिस को सूचना दी। मौके पर लगे सीसीटीवी कैमरे की पड़ताल और सघन पूछताछ के बाद मामला फर्जी निकला। पुलिस ने नौकर और उसकी महिला मित्र को गिरफ्तार कर रुपये बरामद कर लिए हैं।

हनुमानगंज पुलिस के मुताबिक एयरपोर्ट रोड स्थित इंद्रविहार कालोनी में रहने वाले दीपक हिरवानी (49) की जुमेराती में शंकर सुपारी के नाम से दुकान है। पिछले छह-सात सालों से उनकी दुकान पर नरेंद्र पंथी काम करता है। भरोसा होने के कारण दीपक नरेंद्र को रोजाना बैंक में रुपये जमा करने के लिए भेजता था। बुधवार शाम करीब चार बजे दीपक ने उसे एक लाख पांच हजार रुपये हमीदिया रोड स्थित कोटक महिंद्रा बैंक की पर्ची भरकर जमा करने के लिए भेजा। करीब बीस मिनट बाद नरेंद्र ने दीपक को फोन करके बताया कि मनोहर डेयरी वाली गली में उसके साथ लूट हो गई है। दीपक तुरंत मौके पर पहुंचा। उसे नरेंद्र ने बताया कि लाल रंग की बाइक से आए दो लड़के उसके हाथ में चाकू मारकर और आंखों में मिर्च पाउडर फेंककर नोटों से भरा बैग छीनकर भाग गए हैं। दीपक ने नरेंद्र को थाने जाकर शिकायत करने को बोला।

सीसीटीवी फुटेज देखने पर हुआ घटना का खुलासा

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। मनोहर डेरी में लगे सीसीटीवी कैमरे देखे गए। उसमें नरेंद्र स्कूटर पर हेलमेट लगाकर आए किसी व्यक्ति को रुपयों वाला बैग देते हुए दिखाई पड़ा। इससे नरेंद्र पर शक बढ़ गया। उसकी तलाश की गई तो वह शिकायत करने थाने जाने के बजाय डीआइजी बंगला के पास घूमता मिला। उसे थाने लाकर पूछताछ की गई। उसने रुपये महिला मित्र मोहिनी पंथी को देने की बात स्वीकार की। पुलिस ने आंबेडकर नगर निवासी मोहिनी को हिरासत में लेकर स्कूटर में रखा रुपयों से भरा बैग बरामद कर लिया। पुलिस ने नरेंद्र और मोहिनी को गिरफ्तार कर स्कूटर जब्त कर ली है।

कर्ज उतारने के लिए बनाई लूट की योजना

पूछताछ के दौरान आरोपी नरेंद्र ने बताया कि उस पर करीब डेढ़ लाख रुपये का कर्ज है। व्यवसायी उस पर भरोसा करते थे, इसलिए उसने महिला मित्र के साथ मिलकर रुपये हड़पने की योजना बनाई। योजना के तहत वह रुपये लेकर दुकान से निकला और मोहनी को फोन करके बुलाया। उसके बाद उसने रुपयों वाला बैग देने के बाद खुद ही ब्लेड से अपने हाथ पर घाव बनाए और मिर्च पाउडर शर्ट पर डाल लिया था।

Posted By: Ravindra Soni