Bhopal News: मंत्रालय में सक्रिय हो रही अजाक्स इकाई, दोबारा मिला कार्यालय

Updated: | Sun, 24 Oct 2021 02:25 PM (IST)

भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। अनुसूचित जाति/जनजाति अधिकारी-कर्मचारी संघ मप्र (अजाक्स) की मंत्रालय इकाई पुन: सक्रिय हो गई है। यह सक्रियता बीते दिनों मंत्रालय में अजाक्स इकाई के कार्यालय के उद्घाटन के रूप में सामने आई है। एसटी, एससी वर्ग के कर्मचारी अपने अधिकारों के लिए एकजुटता दिखा रहे हैं।

अजाक्स इकाई ने मंत्रालय में 22 अक्टूबर को कार्यालय की शुरूआत कर दी है, जिसका शुभारंभ अपर मुख्य सचिव जेएन कंसोटिया ने किया है। वे अजाक्स के प्रदेश अध्यक्ष भी हैं। मंत्रालय की अजाक्स इकाई के अध्यक्ष घनश्याम दास भकोरिया ने बताया कि साल 2001 से संघ को कार्यालय के लिए कक्ष आवंटित था, लेकिन नया मंत्रालय भवन निर्माण के कारण पूर्व में आवंटित कक्ष तोड़ दिया गया था। नया भवन बनने के बाद कक्ष पुन: आवंटित किए जाने की प्रक्रिया चल रही थी। इसी प्रक्रिया के तहत अजाक्स इकाई को वल्लभ भवन क्रमांक एक के कक्ष क्रमांक दो में कार्यालय आवंटित किया है। अजाक्स इकाई लगातार कर्मचारियों के हितों की चिंता कर रही है। समय-समय पर कर्मचारियों की मांगों को प्रशासन तक पहुंचा रहे हैं।

उन्‍होंने आगे बताया कि आरक्षित वर्गों के लिए समय-समय पर जारी होने वाले दिशा-निर्देशों का पालन कराया जाता है। साथ ही सभी वर्गों के कर्मचारियों के हितों की चिंता की जाती है। मंत्रालय अजाक्स इकाई के पदाधिकारी समय से महंगाई भत्ते का लाभ नहीं देने से नाराज हैं। सचिवालय भत्ता भी लगातार अटकाया जा रहा है। अजाक्स इकाई की महासचिव ज्योति जकनोरे का कहना है कि इकाई के पदाधिकारियों ने सरकार से केंद्र के बराबर 16 फीसद महंगाई भत्ते का लाभ देने की मांग की थी, जबकि सरकार की ओर से आठ फीसद लाभ देने की घोषणा की गई है। इस तरह कर्मचारियों के हितों को नुकसान पहुंचाया जा रहा है।

Posted By: Ravindra Soni