बैरागढ़ के पुराने बस स्टैंड पर अतिक्रमणकारियों का कब्जा, पेड पार्किंग की दरकार

बैरागढ़ बाजार में खरीदारी करने आए लोगों को वाहन खड़े करने की नहीं मिलती जगह। व्यापारी परेशान।

Updated: | Fri, 28 Jan 2022 02:32 PM (IST)

संत हिरदाराम नगर, नवदुनिया प्रतिनिधि। किसी समय मध्यप्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की बसों के लिए सुरक्षित बैरागढ़ के बस स्टैंड का अस्तित्व खत्म हो गया है। नगर निगम ने यहां पर दुकानों का निर्माण कर इसका स्वरूप बदल दिया है। यह अब व्यापारिक क्षेत्र बन चुका है, लेकिन यहां वाहनों की पार्किंग के लिए सुरक्षित जगह पर अतिक्रमणकारियों, खासकर मैकेनिकों ने कब्जा कर लिया है। नगर निगम अवैध कब्जा हटाकर यहां पेड पार्किंग बना सकता है।

सड़क परिवहन निगम द्वारा यहां पर बुकिंग कार्यालय का निर्माण भी किया गया था, लेकिन इसका अस्तित्व समाप्त होने के बाद बुकिंग कार्यालय सहित खाली जमीन को अधिग्रहित कर लिया। निगम ने यहां दुकानों का निर्माण कर उसे प्रीमियम लेकर किराये पर दे दिया है। दुकानों का निर्माण होने के साथ ही बस स्टैंड का अस्तित्व समाप्त हो गया है। जब दुकानों का निर्माण हुआ था, तब दुकानों के सामने वाहन पार्किंग के लिए काफी जगह खाली थी। समय के साथ इस पर कब्जा होता चला गया। अब तो निजी वाहनों की पार्किंग के लिए जगह नहीं बची है।

अवकाश के दिनों में होती है परेशानी

पुराना बस स्टैंड अब कपड़ा बाजार में तब्दील हो चुका है। यहां अधिकांश थोक एवं फुटकर दुकानें हैं। रविवार एवं सार्वजनिक अवकाश के दिनों में बड़ी संख्या में लोग खरीदी करने बाजार पहुंचते हैं। लेकिन यहां ग्राहकों को निजी वाहन खड़े करने की जगह आसानी से नहीं मिल पाती। यदि अवैध कब्जा हटा दिया जाए तो पार्किंग की जगह निकल सकती है। कपड़ा व्यापारी कई बार अवैध कब्जा हटाने की मांग कर चुके हैं। हाल ही में कपड़ा व्यापारी संघ के प्रयास से पुलिस ने अवैध कब्जा हटाया था, लेकिन मैकेनिकों ने फिर से कब्जा कर लिया है।

जैन धर्मशाला के पास भी कब्जा

नगर निगम ने पुराने बस स्टैंड स्थित जैन धर्मशाला के पास जल कार्य विभाग के कार्यालय को तोड़कर शापिंग काम्पलेक्स बनाने का काम शुरू किया है। काम शुरू होने से पहले ही यहां पर मैकेनिकों एवं सर्विस सेंटर वालों ने कब्जा करना शुरू कर दिया है। अवैध कब्जे से क्षेत्र के व्यापारी परेशान हैं। कपड़ा व्यापारी दिलीप ज्ञानचंदानी का कहना है कि पुराने बस स्टैंड से अवैध कब्जा हटाने की सख्त जरूरत है। मैकेनिक कहीं भी पुराने वाहन खड़े कर उसे सुधारना शुरू कर देते हैं। इससे व्यापारियों एवं ग्राहकों को परेशानी होती है।

Posted By: Ravindra Soni