Hello Navdunia: लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनाना आसान है, आरटीओ, डीटीओ कार्यालय जाने की नहीं पड़ेगी जरूरत

Updated: | Wed, 04 Aug 2021 06:00 PM (IST)

Hello Navdunia: भोपाल(नवदुनिया प्रतिनिधि)। परिवहन विभाग ने भोपाल सहित प्रदेश भर में लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनाने की कार्ययोजना रविवार से शुरू कर दी है। अब लोग खुद कंप्यूटर सिस्टम, लैपटॉप, मोबाइल से इंटरनेट मीडिया के जरिए सारथी ई-परिवहन सारथी वेबसाइट से आसानी से लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बना सकते हैं। इसके लिए आपको क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) व जिला परिवहन कार्यालाय (डीटीओ) जाने की बिल्कुल जरूरत नहीं है। ऑनलाइन लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनाने की प्रकिया समझकर आसानी से घर व दफ्तर में बैठकर स्वयं लाइसेंस बना सकते हैं। यह बात बुधवार को एआरटीओ अनपा खान ने हैलो नवदुनिया में कही। उन्होंने ऑनलाइन लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस संबंधी जिज्ञासाएं,समस्याएं और समाधान के बारे में शहरवासियों द्वारा फोन पर पूछे गए सवालों के जवाब भी दिए।

सवाल : लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए क्या सच में आरटीओ नहीं आना पड़ेगा? (मनीष कुमार, टीलाजमापुरा)

जवाब : देखिए आप सारथी ई-परिवहन की बेवसाइट पर जाकर होम पेज लर्निंग लाइसेंस की प्रक्रिया को पूरा करके 10 मिनट में आसानी से घर बैठे ड्राइविंग लाइसेंस बना सकते हैं। आरटीओ-डीटीओ आने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

सवाल : लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की कितनी उम्र होनी चाहिए? (पल्लवी सरवैया बावडि़या कला)

जवाब: 16 उम्र के अधिक छात्र-छात्राओं को बिना गियर वाली गाडि़यों का लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनाया जाता है। 18 साल की उम्र होने पर लर्निंग लाइसेंस छह महीने की सयावधि का बनाया जाता है। जिससे गियर वाले दोपहिया वा चारपहिया हल्के वाहनों को चलाया जा सकता है। जिसे आप अब घर बैठेेे बनवा सकते हैं।

सवाल: क्या स्मार्ट मोबाइल फोन से ड्राइविंग लाइसेंस बनाया जा सकता है? (विराट सिंह, निशातपुरा)

जवाब : हां जी बिल्कुल आप सारथी ई-परिवहन बेवसाइट पर जाकर घर बैठें ड्राइविंग लाइसेंस की प्रक्रिया पूरी करके स्वयं लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बना सकते हैं।

सवाल: लर्निंग ड्राइिंवग लाइसेंस बनाए हुए छह महीने से अधिक समय हो गया है। अब क्या परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकती हूं? (पूजा यादव, कटारा हिल्स)

जवाब: कोरोना के कारण लगे लॉकडाउन में आरटीओ बंद रहा था। इस दौरान जिन आवेदकों की लर्निंग से परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की तिथि निकली है,वो लोग 30 सितंबर तक आवेदन करके लाइसेंस बनवा सकते हैं।

सवाल: मैं अभी उज्जैन से भोपाल आया हूं। वहीं के पते से आधार कार्ड है। क्या ऑनलाइन आवेदन करके भोपाल में लाइसेंस बनवा सकता हूं? (ईश्वर सिंह, चूनाभट्टी)

जवाब: जी हां आप ऐसा कर सकते हैं। अब एक जिले के पते से दूसरे जिले में लाइसेंस बनाने की बाध्यता खत्म हो गई है। बस ऑनलाइन प्रक्रिया को समझकर सही आवेदन करके स्वयं लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनवा सकते हैं। छह महीने की समयावधि होती है,लेकिन एक महीने बाद ही परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस बनवा सकते हैं। परमानेंट ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आरटीओ व डीटीओ जाना होगा।

सवाल: मुझे बेटे का ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना है,उसके लिए क्या करूं? (ब्रजेंद्र कुमार, रोहित नगर)

जवाब: आप कंप्यूटर सिस्टम, लैपटॉप या मोबाइल पर सारथी ई-परिवहन वेबसाइट पर ऑनलाइन लर्निंग लाइसेंस खुद बना सकते हैं। इसके लिए बेवसाइट पर सही आप्शन का चुनाव करते जाएं। आधार कार्ड मोबाइल नंबर पर लिंक होना चाहिए।

सवाल: लर्निंग लाइसेंस के बाद परमानेंट ड्राइिंवग लाइसेंस घर बैठें कब से बनाए जा सकेंगे? (कैलाश शर्मा, पुराना शहर)

जवाब :परिवहन विभाग से संबंधित कार्य लगभग 100 फीसद ऑनलाइन हो रहे हैं। अभी लर्निंग लाइसेंस बनाने की सुविधा घर बैठें दी है। आगामी समय में स्‍थाई ड्राइविंग लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया भी शुरू होने उम्मीद है।

सवाल : क्या कियोस्क के माध्यम से भी लर्निंग लाइसेंस बनाए जा सकेंगे?(मनीष सिंह, कोलार रोड)

जवाब: देखिए जी ये आपका चुनाव है। पूरी तरह से ऑनलाइन लर्निंग लाइसेंस प्रक्रिया समझने के बाद ऐसी नौबत नहीं आनी चाहिए।

आधार ई-केवायसी के जरिए ऑनलाइन ऐसे बनाएं लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस

-आवेदक को इंटरनेट पर www.parivahan.gov.in पर जाना है। होम पेज पर ऑनलाइन सर्विस मीनू में ड्राइविंग लाइसेंस सर्विस पर क्लिक करना है।

-लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस के लिए दो आप्शन आएंगे। एक आधार कार्ड और दूसरा बिना आधार कार्ड का होगा। इसमें आधार कार्ड वाला आप्शन पर क्लिक करना है। फिर जो मोबाइल नंबर लिंक है,उस पर ओटीपी आएगा। उसे डालना है। इसके बाद आवेदन खुल जाएगा।

-आवेदन में आधार से ली गई जानकारी जैसे आवेदक की फोटो,नाम,पता,पिता का नाम,जन्मतिथि आ जाएगी। फिर आवेदक को क्लास ऑफ व्हीकल का चयन करना होगा। इसके बाद एक मोबाइल पर मैसेज से आवेदन नंबर मिलेगा। इससे तय शुल्क का भुगतान आसानी से हो जाएगा।

-शुल्क का भुगतान होते ही टेस्ट के लिए पासवर्ड आएगा। पासवर्ड को डालकर ट्रैफिक निमयों संबंधी 20 सवाल पूछे जाएंगे। इसमें 60 फीसद सवाल सही देने पर आवेदक टेस्ट में पास हो जाएगा। फिर लर्निंग लाइसेंस मीनू में जाकर प्रिंट लर्नर लाइसेंस आवेदन-तीन का चयन करके आवेदन क्रमांक व जन्मतिथि दर्ज करके मैसेज पर मिले ओटीपी डाल कर लाइसेंस को प्रिंट मिल जाएगा। लाइसेंस की समयावधि छह महीने की मानी जाएगी।

Posted By: Lalit Katariya