HamburgerMenuButton

मध्‍य प्रदेश में गरीबों को 3 माह का राशन निशुल्क मिलेगा, 2 करोड़ परिवारों को काढ़ा बांटेंगे : सीएम श‍िवराज

Updated: | Mon, 19 Apr 2021 06:24 PM (IST)

भोपाल। मध्‍य प्रदेश में गरीबों को 3 माह का राशन निशुल्क मिलेगा, 2 करोड़ परिवारों को काढ़ा बांटेंगे : सीएम श‍िवराज मुख्यमंत्री शि‍वराज स‍िंंह चौहान ने अपने निवास पर आज प्रदेश के समस्त ज़िलों के कलेक्टर्स के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोरोना संक्रमण के नियंत्रण को लेकर बैठक में यह बात कही।

इस दौरान सीएम ने प्रदेश के समस्त ज़िलों के कलेक्टर्स को निर्देश दिये कि प्रदेश में गरीबों को 3 माह का राशन निशुल्क दिया जाएगा तथा 2 करोड़ परिवारों को काढ़ा बांटा जाएगा। उन्‍होंने कहा क‍ि लोग 30 अप्रैल तक अनावश्यक न निकलें, बहुत आवश्यकता होने पर बाहर निकलें। सीएम बोले यह संकट का समय है, जो लोग अनुभवी है उन्हें जोड़ें और उनका लाभ लें। केंद्र शासन के चिकित्सा संस्थानों को भी जोड़ें। बड़े महानगरों में 2,000 बिस्तर के अस्पताल खोले जाएंगे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टरों को छूट दी है कि जिलों में जितने चाहिए, उतने कोवि‍ड केयर सेंटर खोल सकते हैं। उन्होंने कहा कि राशि कलेक्टरों के पास है, जरूरत पड़ने और और राशि भेजेंगें। सेंटर में स्टाॅफ की भर्ती में कंजूसी ना करें। कुछ जिलों ने बहुत अच्छी पहल की है, सेंटर में ऑक्सीजन बेड भी रख दिए हैं। ऐसा हो सके तो यह भी करें।

मुख्यमंत्री ने कहा क‍ि होम आइसोलेशन की व्यवस्था सुदृढ़ हो, सभी को किट वितरण सुनिश्चित हो। होम आइसोलेशन में मरीज से दो बार बात की जाए, टेलीमेडिसिन का उपयोग किया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा क‍ि हमें हर हाल में संक्रमण की चेन को तोड़ना है। सुनिश्चित करें कि सैम्पल देने के बाद लोग बाहर न घूमें। 24 घंटे में टेस्ट रिपोर्ट मिलना आवश्यक है। आपको पूरी छूट है आप ज़िलों में जितनी आवश्यकता हो उतने कोविड केयर सेंटर खोलें।

मुख्यमंत्री ने सभी कलेक्टर्स को निर्देश दिए कि किसी भी मोहल्ला, कालोनी, गांव, कस्बे से लोग 30 अप्रैल तक बाहर न निकलें, यह सुनिश्चित किया जाए। लोगों से आग्रह करें कि 30 अप्रेल तक घर में रहें। बहुत आवश्यकता होने पर ही लोग बाहर आकर आवश्यक सामग्री लें।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि शहरों और कस्बों के साथ ही प्रदेश के ग्रामों में भी संक्रमण बढ़ने से रोकना है। ग्रामों में जो सुरक्षित हैं, वे सुरक्षित रहें और बाहर न निकलें। जहांं अधिक संक्रमित रोगी हैं वहां कन्टेनमेंट जोन बनाकर संक्रमण नियंत्रण सुनिश्चित करें। हर स्थिति में संक्रमण की चेन तोड़ना है। रहवासी संघ और स्वैच्छिक संगठन सहयोग करें ताकि जो व्यवस्थाएं छोटी पड़ रही हैं, उन्हें पर्याप्त बनाया जा सके। मुख्यमंत्री ने खंडवा, बुरहानपुर प्रशासन के संक्रमण नियंत्रण के प्रयासों को सराहनीय बताया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में संक्रमित रोगियों के लिए पर्याप्त ऑक्सीजन की व्यवस्था के लिए युद्ध स्तर पर प्रयास किए गए हैं। रेमडेसिविर इंजेक्शन भी लगातार आ रहे हैं। इनका न्यायपूर्ण वितरण सुनिश्चित किया जाए ताकि किसी रोगी की साँस की डोर न टूटे।

हर व्यक्ति शंका होने पर टेस्ट अवश्य कराएं

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आइसोलेशन से जुड़ी पूरी व्यवस्थाएंं जिलों में सुनिश्चित करें। जिन व्यक्तियों को सर्दी-खांसी, बुखार है, वे तत्काल जांच करवाएं, जांच की रिपोर्ट आने तक स्वयं को आइसोलेशन में रखें। सेंपल देने के बाद बहुत से लोग घूमते रहते हैं। इस पर भी नियंत्रण करना है। इससे परिवार को संक्रमित होने से बचाया जा सकेगा। यदि घर छोटा है तो कोविड केयर सेंटर जाकर व्यवस्था का लाभ लेना चाहिए।

मुख्यमंत्री चौहान ने कलेक्टर्स से कहा कि जिन जिलों में ऑक्सीजन प्लांट स्वीकृत किए गए हैं, वे प्लांट स्थापना का कार्य प्रारंभ करें। कुछ जिलों में ऑक्सीजन सिलेंडर लेने की पहल सराहनीय है। कलेक्टर द्वारा स्थानीय प्रबंध भी सुनिश्चित हों।

कारावास जाएंगे कालाबाजारी करने वाले

मुख्यमंत्री ने कहा कि औषधियों की कालाबाजारी करने वाले को राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद (एनएसए) में कारावास भेजें। इस समय सबसे बड़ी आवश्यकता लोगों का जीवन बचाना है। जीवनरक्षक इंजेक्शन को अधिक कीमत पर बेचने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।

वित्तीय समस्या नहीं होगी

चौहान ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा किए जाने वाले स्थानीय प्रबंध में वित्तीय समस्या नहीं आने दी जाएगी। राज्य शासन स्तर से धन राशि की कमी नहीं होगी। यह प्रत्येक जिले का टास्क होना चाहिए कि कम से कम रोगी अस्पताल पहुँचे। होम आइसोलेशन व्यवस्था का अधिकतम प्रयास हो। इन्दौर में की गई पहल प्रशंसनीय है। सांसद, विधायक भी पूरा सहयोग कर रहे हैं। सामाजिक संगठन सरकार के प्रयासों को मजबूत करें। निश्चित ही इस महामारी को हम सभी मिलकर हरा देंगे।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.