भोपाल के खानूगांव में आग और तालाब किनारे कचरा डंपिंग की जांच शुरू

Updated: | Thu, 02 Dec 2021 02:59 PM (IST)

भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। राजधानी भोपाल की जीवनरेखा कहे जाने वाले बड़े तालाब को चारों तरफ से निगलने की तैयारी चल रही है। खास बात यह है कि नगर निगम खुद इसमें कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। ताजा मामला खानूगांव में बागोबहार मैरिज गार्डन के सामने लगी आग का आया है। यहां नगर निगम तालाब के किनारे महीनों से कचरा फेंक रहा है। इसके कारण यहां अघोषित खंती बन गई है। इसकी शिकायत होने के बाद निगम ने मामले को दबाने के लिए कचरे में आग लगवा दी। इससे कचरे में उपस्थित बड़ी मात्रा में कागज, पन्नी और अन्य सूखा कचरा जलने लगा। इससे यहां तालाब किनारे खड़े करीब ढाई सौ हरे-भरे पेड़ भी जल गए।

बता दें कि नगर निगम द्वारा करीब 1000 से अधिक डंपरों में कचरा भरकर खानूगांव में तालाब के किनारे डाला जा रहा था। इस मामले की शिकायत के बाद गुरुवार को प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के साथ पर्यावरणविद सुभाष सी पांडेय जांच के लिए मौके पर पहुंचे। यहां उन्होंने पाया कि नगर निगम द्वारा खानूगांव में बड़े तालाब का दायरा सीमेंट की दीवार बनाकर पहले ही तय कर दिया गया। अब उसी के पास बागोबहार मैरिज गार्डन के सामने से करबला तक कचरा डालकर ऊपर तक तालाब को पूरा जा रहा है। टीम ने पानी में फेंके गए कचरे का सैंपल लिया। वहीं कचरे में लगी आग से बचे अवशेषों का भी सैंपल लिया गया है। जिन्‍हें जांच के लिए लैब भेजा गया है। यहां जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। इधर, नगर निगम के अधिकारियों को फटकार लगाई गई कि वे इस तरह की गतिविधियां यहां न करें। इसके चलते नगर निगम ने यहां से कचरा निकालने के लिए एक माह का समय मांगा है।

Posted By: Ravindra Soni