मप्र भाजपा कार्यसमिति बैठक : कुशाभाऊ ठाकरे जन्मशती वर्ष के बहाने भाजपा करेगी चुनाव की तैयारी

Updated: | Fri, 26 Nov 2021 07:48 PM (IST)

भोपाल। (राज्य ब्यूरो)। विधान सभा चुनाव से ठीक दो वर्ष पहले हुई भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में पार्टी ने कुशाभाऊ ठाकरे जन्मशती वर्ष के बहाने चुनावी तैयारी करने का रोडमैप तैयार कर लिया। पार्टी ने पिछले विधान सभा चुनाव 2018 में भले ही 'अबकी बार-दो सौ पार" का आंकड़ा न पाया हो, लेकिन मिशन 2023 में उसने 'वोट शेयर में 10 प्रतिशत से ज्यादा की वृद्धि" का संकल्प ले लिया है। शुक्रवार को भोपाल के मिंटो हाल में प्रदेश कार्यसमिति के उद्घाटन सत्र में प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने सभी को संकल्प दिलाया कि हमें अपना वोट शेयर 10 प्रतिशत से ज्यादा बढ़ाकर 51 फीसदी से ऊपर ले जाना है। छल-कपट की राजनीति करने वालों को जवाब देना है और 2023 में जीत का इतिहास बनाना है।

कार्यसमिति की बैठक के दौरान सभी पदाधिकारियों संविधान दिवस की शपथ दिलाई गई और डा.भीमराव आंबेडकर के चित्र पर माल्यापर्ण किया गया। प्रदेश की सह प्रभारी पंकजा मुंडे ने संविधान दिवस पर केंद्रित अपनी बात रखी। उन्होंने कांग्रेस की इस बात को लेकर आलोचना की कि पार्टी द्वारा संविधान दिवस का बहिष्कार किया। इससे कांग्रेस की संविधान निर्माता डा.भीमराव आंबेडकर के प्रति उनकी निष्ठा उजागर हो गई।

कांग्रेस सरकार 'कोई और" चला रहा था

प्रदेश में 15 महीने तक चली कांग्रेस की सरकार प्रदेश को गर्त में ले जा रही थी। मुख्यमंत्री कोई और था और सरकार को चला कोई और रहा था। कांग्रेस के ही लोग अपनी सरकार पर आरोप लगाने लगे थे। ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके साथियों के सहयोग से प्रदेश को बचाने के लिए शिवराज सिंह चौहान की सरकार बनी।

मोदी और भाजपा को रोकने षडयंत्र कर रहे राष्ट्र विरोधी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा को रोकने के लिए राष्ट्र विरोधी लोग षडयंत्र रच रहे हैं। कांग्रेस, वामपंथी और राष्ट्र विरोधी मिलकर जनजातीय क्षेत्रों में दुष्प्रचार कर रहे हैं। पहले इन्होंने जनजातीय भाइयों को खुद को हिंदू बताने से रोका। फिर कोरोना की वैक्सीन के खिलाफ भड़काया और कहा कि इससे बांझपन का खतरा है। अब ये आदिवासी दिवस के नाम पर लोगों को भड़का रहे हैं, जबकि उससे हमारे देश का कुछ भी लेना-देना ही नहीं है।

संगठन को मजबूती देना हमारी जिम्मेदारी

हमारे लिए यह वर्ष गौरव और संकल्प का वर्ष है क्योंकि यह स्व. कुशाभाऊ ठाकरे का जन्मशती वर्ष है। उन्होंने राजमाता विजयाराजे सिंधिया, कैलाश जोशी, प्यारेलाल खंडेलवाल, सुन्दरलाल पटवा जैसे नेताओं के साथ पार्टी को खड़ा किया और सींचा। इन नेताओं ने प्रदेश के पार्टी संगठन को आदर्श बनाया है। अब उसे मजबूती देने की जिम्मेदारी हमारी है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay