मप्र कांग्रेस अध्‍यक्ष कमल नाथ ने ली जिला प्रभारियों और अध्यक्षों की बैठक, कहा-जमीनी नेता ही भविष्य में टिक पाएंगे

मप्र कांग्रेस अध्‍यक्ष कमल नाथ ने बैठक में कहा कि विधानसभा चुनाव में अब 18 माह बचे हैं।

Updated: | Tue, 18 Jan 2022 09:02 PM (IST)

मध्‍य प्रदेश में एक फरवरी से कांंग्रेस द्वारा चलाया जाएगा घर चलो, घर-घर चलो अभियान

भोपाल। (राज्य ब्यूरो)। विधानसभा चुनाव में 18 माह बचे हैं। भविष्य में वे नेता ही टिक पाएंगे जो जमीन पर रहकर काम करेंगे। अब रैली और सभाओं को दौर खत्म हो चुका है। हमें इस सच्चाई का स्वीकार करना होगा। संगठन यदि मजबूत होगा तो चुनाव में जीत सुनिश्चित होती है इसलिए संगठन को मजबूत करने पर ध्यान दें। मंडलम, सेक्टर और बूथ इकाइयों को सशक्त बनाएं। यह काम इमानदारी से करें। इसमें खानापूर्ति सहन नहीं की जाएगी क्योंकि ऐसा करना पार्टी से धोखा है। यह बात प्रदेश कांग्रेेस अध्यक्ष कमल नाथ ने मंगलवार को अपने निवास पर आयोजित जिला प्रभारी और अध्यक्षों की बैठक में कही।

सबकी रिपोर्ट मेरी जेब में रहती है- उन्होंने पदाधिकारियों से कहा कि मैं हर तीन माह में सभी 230 विधानसभा क्षेत्रों का सर्वे कराता हूं। सबकी रिपोर्ट मेरी जेब में रहती है। हमारे विधायकों की क्या स्थिति है, यह भी मुझे पता है। अभी समय है, जुट जाएं और जनता से सीधा संपर्क और संवाद रखें। आज राजनीति के तौर-तरीके बदल चुके हैं।

नए मतदाताओं को जोड़ने पर ध्यान दें- प्रदेश में मतदाता सूची के पुनरीक्षण का काम चल रहा है। हमें इस पर ध्यान देना होगा। नए मतदाताओं को जोड़ने के साथ अपात्रों के नाम सूची से हटवाने होंगे। चुनाव में 18 माह बचे हैं। अब सभी पदाधिकारी साप्ताहिक कार्यक्रम बनाएं। मंडलम, सेक्टर और बूथ इकाइयों के पुनर्गठन का काम तेजी के साथ पूरा करें।

एक दिन में कम से कम पांच बूथ तक पहुंचे- उन्होंने बताया कि एक फरवरी से 28 फरवरी तक प्रदेश में घर चलो, घर-घर चलो अभियान चलाया जाएगा। इसमें हमें ब्लाक स्तर तक जनता से सीधा संवाद व संपर्क करना है। एक दिन में कम से कम पांच बूथ तक पहुंचकर जन-जन तक कांग्रेस की बात और सरकार की नाकामी को पहुंचाना है। अभियान की प्रदेश स्तर से लगातार समीक्षा भी की जाएगी।

उन्होंने कहा कि सभी जिलों में समन्वय समिति का गठन किया जाएगा और प्रशिक्षण शिविर भी आयोजित होंगे। घर-घर चलो अभियान के प्रभारी रवि जोशी ने इसकी जानकारी दी और मडलम, सेक्टर व बूथ इकाइयों के प्रभारी एनपी प्रजापति ने बताया कि कुछ जिलों से अभी तक सूची नहीं आई है।

इस पर कमल नाथ ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि इस काम में ढिलाई न करें। सदस्यता के काम पर फोकस करें और जितनी सदस्यता हो चुकी है, उसकी जानकारी प्रदेश कार्यालय को भेजें। प्रदेश बाल कांग्रेस के प्रभारी बाला बच्चन ने संगठन की गतिविधि और पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने आगामी समय मंे किए जाने वाले आंदोलन और कार्यक्रमों की रूपरेखा बताई।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay