मध्‍य प्रदेश महाअभियान : दिसंबर तक सभी का करना है टीकाकरण, इसलिए पहली डोज में अब सिर्फ कोवैक्सीन लगेगी

Updated: | Tue, 30 Nov 2021 07:39 AM (IST)

भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। मध्य प्रदेश ने टीकाकरण का लक्ष्य तय समय पर पूरा करने के लिए एक और पहल की है। अब कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवाने वालों को सिर्फ कोवैक्सीन ही लगाई जा रही है। करीब एक सप्ताह से यही क्रम चल रहा है। इसका उद्देश्य यह है कि दूसरी डोज का समय जल्द आ सके, जिससे प्रदेश में सभी पात्र लोगों को 31 दिसंबर के पूर्व दोनों डोज लगाने का लक्ष्य पूरा हो सके।

उल्लेखनीय है कि कोविशील्ड की पहली डोज लगाने के 12 से 16 हफ्ते बाद दूसरी डोज लगाई जाती है, जबकि कोवैक्सीन की दूसरी डोज चार से छह हफ्ते के भीतर लगाई जाती है। प्रदेश में अभी तक 63 प्रतिशत पात्र लोगों को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। वहीं, 93 प्रतिशत पात्र लोगों को पहली डोज लगी है। प्रदेश में 18 साल से ऊपर के कुल 5.49 करोड़ लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य है। इस लिहाज से अभी 39 लाख लोगों की पहली डोज बाकी है।

31 दिसंबर तक सभी को दोनों डोज लगाने के लिए सबसे ज्यादा ध्यान दूसरी डोज लगाने को लेकर है। इसकी वजह यह कि कोरोना मरीजों की संख्या कम होने के बाद से लोग दूसरी डोज लगवाने के लिए नहीं आ रहे थे। पिछले महीने पूरे प्रदेश में एक करोड़ 23 लाख लोग ऐसे थे, जिन्होंने समय आने के बाद भी टीका नहीं लगवाया था। इसके बाद मुख्यमंत्री ने समीक्षा कर कहा था कि हर बुधवार को महाअभियान चलाया जाएगा।

इसी कड़ी में नवंबर में तीन महाअभियान हुए। इसका फायदा यह हुआ कि समय आने के बाद भी दूसरी डोज नहीं लगवाने वालों का आकड़ा अब घटकर 60 लाख पर आ गया है। छुट्टी का दिन छोड़ दें तो रोज औसतन चार लाख्ा लोगों को टीका लगाया जा रहा है। एक दिसंबर (बुधवार) को भी महाअभियान चलेगा। इसमें 15 लाख से ज्यादा लोगों को टीका लगाए जाने की उम्मीद है।

प्रदेश में 18 साल से ऊपर की आबादी जिन्हें टीका लगाया जाना है- 5.49 करोड़

- पहली डोज लगवाने वाले -5.10 करोड़

-दोनोें डोज लगवाने वाले -3.49 करोड़

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay