Flag on Betul BJP Office: बैतूल में भाजपा कार्यालय पर पाकिस्तान जैसा झंडा लगाया, पुलिस ने देर रात हटाया

Updated: | Tue, 19 Oct 2021 02:06 PM (IST)

Flag on Betul BJP Office: बैतूल, भोपाल। भारतीय जनता पार्टी के बैतूल जिला कार्यालय पर बीती रात शरारती तत्वों ने पाकिस्तान के झंडे जैसा दिखने वाला झंडे रस्सी से बांधकर टांग दिया। सड़क के बीच भाजपा कार्यालय से बंधे झंडे की इंटरनेट मीडिया पर फोटो और वीडियो वायरल होते ही हंगामा खड़ा हो गया। भाजपा ने इस पर कड़ी आपत्ति दर्ज कराई, पुलिस मामले की जांच कर रही है। हुआ यूं कि बैतूल में सोमवार को अचानक इंटरनेट मीडिया पर स्थानीय भाजपा कार्यालय की एक फोटो और वीडियो तेजी से वायरल होने लगी, जिसमें कार्यालय पर दूसरी दिशा से रस्सी बांधकर एक बड़ा झंडा लगा हुआ था। पाकिस्तान के झंडे में जहां हरे रंग का उपयोग किया गया है, इस झंडे में वह हिस्सा सफेद था, लेकिन इस पर चांद और सितारा बिल्कुल पाकिस्तानी झंडे जैसा अंकित था। वायरल फोटो वीडियो में इसे पाकिस्तान का झंडा बताकर टिप्पणी की जा रही थी।

भाजपा किसान प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक प्रवीण गुगनानी को जब मामले की खबर लगी तो उन्होंने पहले इसे फेक फोटो समझा, लेकिन फोटो और वीडियो ज्यादा वायरल होने पर गुगनानी ने पार्टी कार्यकर्ता को कार्यालय के भेजा और झंडा लगने की पुष्टि करने को कहा। कार्यकर्ता ने बताया कि पार्टी कार्यालय पर रस्सी बांधकर ऐसा झंडा लगाया गया है। झंडा लगने की पुष्टि होते ही गुगनानी ने देर रात आनलाइन सूचना पुलिस को दी और कहा कि यह झंडा तुरंत हटाया जाए और जिन्होंने हरकत की है, उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। पाकिस्तानी झंडे पाकिस्तानी झंडा लगाए जाने की सूचना पर पुलिस तत्काल मौके पर पहुंची।

पुलिस अधीक्षक सिमाला प्रसाद का कहना है कि झंडे की एक रस्सी रोड क्रास कर भाजपा कार्यालय से बांधी गई थी। इसे बांधने वाले शेख अलीम से पूछताछ की गई। उसने अनुमति लेकर भाजपा कार्यालय से रस्सी बांधने की जानकारी दी। चूंकि झंडा नियम विरुद्ध तरीके स रोड क्रास कर बांधा गया था इस कारण उसे हटवाया गया। भाजपा जिला अध्यक्ष आदित्य बबला शुक्ला का कहना है कि वह पाक का झंडा नहीं है। भाजपा कार्यालय पर भी नहीं लगाया गया था। एक रस्सी लाकर किसी ने बांध दी थी। शिकायत करने वाले प्रवीण गुगनानी ने बताया कि हम पुलिस से जांच की मांग कर रहे हैं। जिसने भाजपा कार्यालय से रस्सी बांधी है उसकी क्या मंशा थी यह स्पष्ट हो और उचित कार्रवाई की जाए।

Posted By: Prashant Pandey