मध्‍य प्रदेश के आदिवासी बहुल विकासखंडों में तीन माह के भीतर घर तक पहुंचेगा राशन

Updated: | Thu, 02 Dec 2021 04:32 PM (IST)

भोपाल (राज्य ब्यूरो)। प्रदेश के 89 आदिवासी बहुल विकासखंडों के सात हजार से ज्यादा गांवों में तीन माह के भीतर घर तक राशन पहुंचेगा। इसके लिए स्थानीय युवाओं को 474 वाहन बैंकों से ऋण दिलाकर दिलवाए जा रहे हैं। बैंक ऋण की गारंटी सरकार ले रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को योजना के हितग्राहियों और वाहन संचालकों से वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से संवाद किया। उन्होंने कहा कि किसी भी उपभोक्ता को अब उचित मूल्य की दुकान तक खाद्यान्न् लेने के लिए नहीं जाना पड़ेगा।

मुख्यमंत्री ने वाहन से हितग्राहियों तक राशन पहुंचाने वाले जनजाति वर्ग के युवाओं से योजना का लाभ के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि हमें जहां रोजगार मिल गया है वहीं, उपभोक्ताओं को अब चार-चार किलोमीटर दूर राशन लेने नहीं जाना पड़ रहा है। इससे ग्रामीणों की मजदूरी का नुकसान नहीं होगा क्योंकि उन्हें जब दूर दुकान जाना पड़ता था तो आधा दिन लग जाता था।

तय दिवस पर खाद्यान्न् लेकर वाहन पहुंचेगा और इसकी पूर्व सूचना ग्रामवासियों को दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने यह भी बताया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न् योजना के तहत निशुल्क अनाज वितरण व्यवस्था को 31 मार्च तक बढ़ा दिया गया है। प्रदेश में अब तक 125 हितग्राही वाहन का चयन कर चुके हैं और बैंक से 29 प्रकरण स्वीकृत भी हो गए हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay