कपड़े पर जीएसटी बढ़ाने का कड़ा विरोध, सांसद प्रज्ञा सिंह ने व्यापारियों से कहा प्रधानमंत्री तक पहुंचाएंगे आपकी बात

Updated: | Tue, 30 Nov 2021 10:04 AM (IST)

संत हिरदाराम नगर( नवदुनिया प्रतिनिधि)। कपड़े पर जीएसटी पांच फीसद से बढ़ाकर 12 फीसद करने के प्रस्ताव का व्यापारियों ने कड़ा विरोध किया है। जीएसटी की दरें यथावत रखने की मांग को लेकर पूर्व जोन अध्यक्ष राजेश हिंगोरानी के नेतृत्व में व्यापारियों ने सांसद प्रज्ञासिंह ठाकुर से मुलाकात की। सांसद ने कहा कि संसद के शीतकालीन सत्र में वे आपका पक्ष रूखूंगी। प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी एवं केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन को पत्र भी लिखा जाएगा। संघ के अध्यक्ष कन्हैया इसरानी, पूर्व अध्यक्ष वासुदेव वाधवानी, पूर्व महासचिव राजेंद्र कुमार गर्ग, गोर्वधन रायसिंधनी एवं महेश कुमार गर्ग आदि ने सांसद को ज्ञापन सौंपा। इसरानी ने कहा कि कपड़ा आम आदमी की जरूरत की वस्तु है। हम इस पर जीएसटी हटाने की मांग कर रहे थे लेकिन अब उल्टा दर पांच से बढ़ाकर 12 फीसद की जा रही है जो उचित नहीं है।

बैठक हुर्ई, प्रांतीय सम्मेलन आयोजित होगा ।

बैरागढ़ में कपड़ा व्यापारी संघ की कार्यसमिति बैठक हुई। बैठक में सरकार के फैसले के खिलाफ आंदोलन करने पर चर्चा हुई। बैठक में तय किया गया कि जल्द ही भोपाल में प्रदेश भर के व्यापारियों का सम्मेलन होगा। इसमें सरकार से राहत की मांग की जाएगी। संघ के अध्यक्ष कन्हैया इसरानी एवं महासचिव दिनेश वाधवानी के अनुसार प्रदेश की सभी थोक व्यापारियों से विचार विमर्श के बाद आंदोलन की रूपरेखा बनाई जाएगी। केंद्र ने एक जनवरी 2022 से नई दरें लागू करने की घोषणा की है। व्यापारी इसका विरोध कर रहे हैंं। भाजपा के पूर्व मंडल अध्यक्ष चंदूभाई इसरानी, रमेशलाल आसवानी एवं वासुदेव वाधवानी ने भी जीएसटी बढ़ाने का विरोध किया है। व्यापारी दुकानों पर विरोध प्रदर्शन करने पाले बैनर लगाए जाएंगें ।

Posted By: Lalit Katariya