मप्र बोर्ड 12वीं की अंकसूची माशिमं की वेबसाइट पर नहीं मिलने से विद्यार्थी हो रहे परेशान

Updated: | Tue, 03 Aug 2021 03:59 PM (IST)

भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) ने मप्र बोर्ड बारहवीं का रिजल्ट 29 जुलाई को घोषित किया गया, लेकिन एक सप्ताह बाद भी विद्यार्थियों को अंकसूची को लेकर परेशान होना पड़ रहा है। कई विद्यार्थियों की अंकसूची पहले दिन माशिमं की वेबसाइट पर अपलोड थी, लेकिन अब नजर नहीं आ रहा है। इस वजह से विद्यार्थी अपनी अंकसूची डाउनलोड नहीं कर पा रहे हैं। कई विद्यार्थी माशिमं के हेल्पलाइन नंबर पर फोन कर अपनी समस्या से अवगत करा रहे हैं। इसमें जिले सहित प्रदेश के ऐसे सैकड़ों विद्यार्थी हैं, जिनका हायर सेकंडरी का रिजल्ट बोर्ड ने पहले जारी दिखाया, लेकिन अगले ही दिन या तो उनका रिजल्ट दस्तावेजों की कमी से रोक दिया गया या उनका रोल नंबर ही अवैध बता रहा है। ऐसे विद्यार्थियों का नतीजा अचानक वेबसाइट से हटा लेने को लेकर बोर्ड की ओर से भी कोई जानकारी नहीं दी जा रही है। ये विद्यार्थी अपने रिजल्ट को लेकर संशकित हो रहे हैं।

शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय 25वीं बटालियन, भोपाल से 10वीं करने वाले शाश्‍वत झा ने इस वर्ष स्वाध्यायी विद्यार्थी के रूप 12वीं का फार्म भरा था। रिजल्ट जारी होने पर उनकी मार्कशीट दिखाई दी, जिसमें अधिकतर विषयों में 54 और 55 अंक दिए हुए थे, लेकिन अगले दिन जब वह अंकसूची निकालने गए तो उनका रिजल्ट दस्तावेजों की कमी के कारण रुका हुआ बताया गया। वहीं छात्रा तन्वी जैन ने 10वीं की परीक्षा शासकीय कन्या उमावि से 2004 में नियमित विद्यार्थी के रूप में दी थी। पारिवारिक कारणों से वह आगे नियमित पढ़ाई नहीं कर पाईं। इस वर्ष तन्वी ने 12वीं का फार्म भरा था। पहले दिन उनका रिजल्ट जारी करना दिखाया गया, लेकिन अगले दिन रोल नंबर ही वैध नहीं होने का मैसेज आने लगा। अब तन्वी अचानक रिजल्ट रोक दिए जाने और भविष्य को लेकर परेशान है। बोर्ड ने इस वर्ष 12वीं का रिजल्ट विद्यार्थियों की 10 वीं के अंकों के आधार पर बनाया है। ऐसे में दूसरे बोर्ड या सीबीएसई से 10वीं उत्‍तीर्ण करके आए छह हजार से अधिक विद्यार्थियों का रिजल्ट दस्तावेज सत्यापन नहीं होने के चलते रुक गया है। इसके अलावा कई विद्यार्थी ऐसे भी हैं जो एपमी बोर्ड के ही हैं, उनके पास 10वीं की अंकसूची भी है, लेकिन नियमानुसार फार्म फीस भरने के बाद भी इनके रिजल्ट रोक दिए गए हैं।

छह हजार विद्यार्थियों का रिजल्ट जारी नहीं हुआ है

माशिमं ने अन्य राज्य या बोर्ड के कुल छह हजार 348 विद्यार्थियों का रिजल्ट जारी नहीं किया है। उनकी 10वीं की अंकसूची का सत्यापन किया जा रहा है। अंकसूची सत्यापन के बाद इन विद्यार्थियों का परीक्षा परिणाम सात अगस्त तक घोषित किया जाएगा।

अंसतुष्ट विद्यार्थियों की एक सितंबर से होगी परीक्षा

अगर कोई विद्यार्थी अपने परीक्षा परीणाम से असंतुष्ट है तो उनके लिए एक से 25 सितंबर के बीच विशेष परीक्षा आयोजित की जाएगी, जिसमें वे शामिल हो सकेंगे। इसके लिए विद्यार्थी दस अगस्त तक ऑनलाइन पंजीयन करा सकते हैं।

कुछ तकनीकी समस्याएं आने के चलते ये परेशानी हुई है। ऐसे विद्यार्थी परेशान ना हों। जल्द ही समस्या दूर कर ली जाएगी।

-उमेश सिंह, सचिव, माशिमं

Posted By: Ravindra Soni