भोपाल के भेल कारखाने में जापान से आए दल ने देखी मेट्रो के लिए कोच बनाने की संभावनाएं

Updated: | Thu, 02 Dec 2021 12:06 PM (IST)

भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। राजधानी में स्‍थित भारत हेवी इलेक्‍ट्रिकल्‍स लिमिटेड (भेल) के कारखाने में मेट्रो के लिए कोच व हाई स्पीड ट्रेनों (बुलेट ट्रेन) के उपकरणों की तकनीक को समझने व उपकरणों को निर्माण की संभावना तलाशने के लिए बुधवार को जापान की हिताची लिमिटेट कंपनी का एक प्रतिनिधिमंडल आया। इस टीम की भेल कार्यपालक निदेशक एसके बावेजा ने अगवानी की। टीम का नेतृत्व जापानी कंपनी हिताची के पोजी अगतसुमा ने किया। टीम में आधा दर्जन से अधिक प्रतिनिधि शामिल थे। इस दल ने कारखाने के अलग-अलग ब्लाकों का निरीक्षण किया। टैक्शन मोटर ट्रांसफार्मर डिवीजन में उत्पादन की स्थिति और मेट्रो को लेकर कोच बनाने की संभावना को देखा। भेल के ईडी के नेतृत्व में हिताची कंपनी के प्रतिनिधियों ने सबसे पहले ट्रैक्शन मोटर विभाग में रेलवे के इंजनों में लगाने वाली मोटर की बारीकियों को इंजीनियरों से जाना।

जापान की टीम को भारतीय भाषा में जानकारी के लिए एक अनुवादक भी दिल्ली से भोपाल आया था। अनुवादक ने प्रतिनिधियों को सभी जानकारी अफसरों के अनुसार बताई गई। जापानी हिताची लिमिटेड कंपनी रेलगाड़ी के इंजन में लगने वाली मोटर सहित अन्‍य उपकरणों की जानकारी भेल प्रबंधन ने दी। भेल ईडी बावेजा ने कंपनी के प्रतिनिधियों ने प्रसंशा की। जापानी कंपनी के प्रतिनिधियों ने भी भेल की भोपाल यूनिट में तैयार होने वाली मोटरों की कार्य तकनीक को सराहा है। ज्ञात हो कि करीब तीन साल पूर्व भेल और जापानी कंपनी के बीच मेट्रो रेल के लिए कोर्च तैयार करने के अनुबंध हुआ था। यदि यह प्रोजेक्ट शुरू होता है तो भेल भोपाल के उत्पादन में बढ़ोतरी होगी। युवाओं के लिए रोजगार के अवसर भी खुलेंगे।

Posted By: Ravindra Soni