HamburgerMenuButton

MP Weather Update: मध्य प्रदेश पर नहीं होगा चक्रवाती तूफान का असर, तीखे रहेंगे ठंड के तेवर

Updated: | Wed, 02 Dec 2020 10:03 AM (IST)

भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि), MP Weather Update। बंगाल की खाड़ी में बना गहरा अवदाब का क्षेत्र बना हुआ है। बुधवार को इस सिस्टम के तीव्र चक्रवाती तूफान में तब्दील होकर श्रीलंका के त्रिंकोमाली तट पर टकराने की संभावना है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक इस चक्रवाती तूफान का मध्य प्रदेश में मौसम के मिजाज पर असर पड़ने की संभावाना नहीं है। इस वजह से प्रदेश में ठंड के तेवर अभी दो-तीन दिन तक तीखे बने रहेंगे। हालांकि चार दिसंबर को एक पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत में दस्तक देने के बाद मौसम के मिजाज में बदलाव आएगा। वातावरण में नमी बढ़ने से रात के तापमान में बढ़ोतरी होने लगेगी। इससे ठंड से कुछ राहत मिलने लगेगी।

वरिष्ठ मौसम विज्ञानी अजय शुक्ला ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बना सिस्टम के पश्चिम-उत्तर-पश्चिमी दिशा में आगे बढ़ रहा है। इस सिस्टम के बुधवार को शक्तिशाली चक्रवाती तूफान में परिवर्तित होकर श्रीलंका के त्रिंकोमाली तट पर टकराने के आसार हैं। इस चक्रवाती तूफान के असर से दक्षिण तमिलनाडु और दक्षिण केरल में तबाही मचने की आशंका है, लेकिन इस तूफान का मध्यप्रदेश में कोई असर होने की संभावना नहीं है। प्रदेश में वर्तमान में हवा का रुख उत्तरी बना हुआ है। सर्द हवाओं के कारण राजधानी सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में अधिकतम और न्यूनतम तापमानों में गिरावट का सिलसिला जारी है। शुक्ला के मुताबिक अभी दो-तीन दिन तक ठंड के तेवर तीखे बने रहने की संभावना है।

पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से बदलेगा हवाओं का रुख

मौसम विज्ञानी शुक्ला के मुताबिक वर्तमान में ईरान और अफगानिस्तान के बीच एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। यह सिस्टम उत्तर भारत की तरफ बढ़ रहा है। यह चार दिसंबर को उत्तर भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में पहुंचेगा। इससे पहाड़ों पर बर्फबारी के साथ बारिश होने की भी संभावना है। पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से मप्र के आसपास ऊपरी हवा का चक्रवात बनेगा। इससे हवाओं का रुख बदलेगा। वातावरण में नमी बढ़ने लगेगी। बादल छाने से न्यूनतम तापमान बढ़ने लगेगा। पश्चिमी विक्षोभ के आगे बढ़ने के बाद सात दिसंबर से एक बार फिर हवा का रुख उत्तरी होने लगेगा और सर्द हवाओं से ठंड फिर लौटेगी।

Posted By: Ravindra Soni
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.