Transfer in Madhya Pradesh: तबादलों की समयसीमा नजदीक, कई स्तर पर अटकीं सूचियां

Updated: | Wed, 04 Aug 2021 08:58 PM (IST)

Transfer in Madhya Pradesh: भोपाल (नईदुनिया स्टेट ब्यूरो)। अधिकारियों एवं कर्मचारियों के तबादलों की समयसीमा (सात अगस्त) में अब सिर्फ दो दिन शेष हैं और ज्यादातर विभाग अब तक तबादला सूची को अंतिम रूप नहीं दे पाए हैं। उधर, जो तबादला सूचियां प्रस्तावित की गई हैं, उनमें तय सीमा से ज्यादा नाम भेजे गए हैं। इतना ही नहीं, आवेदन भी बड़ी संख्या में आए हैं। इस वजह से विभागीय अधिकारियों को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। वहीं ग्वालियर-चंबल संभाग में बारिश से तबाही और सात अगस्त को प्रस्तावित अन्न् उत्सव के कार्यक्रम को देखते हुए संभावना जताई जा रही है कि सरकार एक बार फिर तबादलों की तारीख आगे बढ़ा सकती है। ज्ञात हो कि एक से 30 जुलाई तक तबादलों से रोक हटाई थी जिसे बाद में सात अगस्त तक बढ़ाया गया था।

प्रदेश में सवा महीने से तबादलों को लेकर मशक्कत चल रही है। विभिन्न् स्तर से सिफारिश लगा चुके कर्मचारी सूची का इंतजार कर रहे हैं, पर आवेदन अधिक आने और तय सीमा से ज्यादा नामों की अनुशंसा करने के कारण सूचियां जारी होने में देरी हो रही है। वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए अगले दो दिन में सूचियां जारी होने की उम्मीद नहीं है क्योंकि तबादला नीति में सरकार ने विभाग के अधिकारियों को तय सीमा में तबादले करने की जिम्मेदारी सौंपी है। यदि उससे ज्यादा तबादले होते हैं, तो उसके लिए सीधे तौर पर संबंधित अधिकारी जिम्मेदार होंगे।

ज्ञात हो कि तबादला नीति में 200 कर्मचारी वाले कैडर में 20 फीसद, 201 से अधिक पर दो हजार तक कर्मचारी वाले कैडर में 10 फीसद और दो हजार से ज्यादा कर्मचारी वाले कैडर में अधिकतम पांच फीसद कर्मचारियों के तबादले करने का प्रविधान है। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में डेढ़ साल से व्यवस्थित (सभी विभागों में सभी स्तर के कर्मचारियों) तबादले नहीं हुए हैं।

शासन-प्रशासन बाढ़ में व्यस्त

ग्वालियर-चंबल संभाग में अतिवृष्टि के कारण आई बाढ़ ने तबाही मचा रखी है। सैकड़ों गांवों में पानी भर गया है। शासन-प्रशासन इसमें व्यस्त हो गया है। कई मंत्रियों की इस क्षेत्र में ड्यूटी लगाई गई है तो क्षेत्र के करीब एक दर्जन जिलों के कलेक्टर-पुलिस अधीक्षक भी राहत-बचाव कार्य में लग गए हैं। वहीं सात अगस्त को सरकार अन्न् उत्सव मना रही है। इसके तहत प्रदेश में 25 हजार से ज्यादा उचित मूल्य दुकानों पर सौ-सौ हितग्राहियों को 10 किलो राशन के थैले बांटे जाना है। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल हो रहे हैं। इसलिए एक दिन पहले प्रभारी मंत्रियों को जिलों में जाकर प्रेस से बात करने को कहा गया है।

सात या 15 अगस्त के बाद आइएएस-आइपीएस की सूची

प्रदेश में कलेक्टर-पुलिस अधीक्षक, संभाग आयुक्त एवं आईजी सहित अन्य आइएएस-आइपीएस अधिकारियों के तबादले बड़े स्तर पर होना है। जानकार बताते हैं कि इन अधिकारियों की सूची सात अगस्त या फिर 15 अगस्त के बाद जारी हो सकती हैं। क्योंकि प्रदेश में बाढ़ और अन्न् उत्सव ने मैदानी गणित बिगाड़ दिया है।

स्कूल शिक्षा विभाग में ऑफलाइन काम

स्कूल शिक्षा विभाग में करीब तीन साल पहले तबादला प्रक्रिया ऑनलाइन की गई है पर इस बार यह बंधन टूट गया है। ज्यादातर तबादलों पर फैसला होने के बाद सिर्फ आदेश ऑनलाइन निकाले जा रहे हैं। सूत्र बताते हैं कि तबादलों पर सीधे मंत्री बंगले से फैसला हो रहा है। शिक्षक भी सीधे वहीं संपर्क कर रहे हैं।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay