HamburgerMenuButton

Aao Rope Acche Paudhe: छत पर जैविक वाटिका तो आंगन और मार्ग किनारे फलदार व औषधीय पौधे लगाए

Updated: | Thu, 24 Jun 2021 10:39 AM (IST)

युवराज गुप्ता, बुरहानपुर (नईदुनिया), Aao Rope Acche Paudhe। बुरहानपुर शहर के जमुना नगर में रहवासियों ने कालोनी के हर घर के आंगन और मार्ग किनारे फलदार व औषधीय पौधे लगाकर इन्हें सिंचित करने का बीड़ा उठाया है। इसके अलावा कुछ घरों की छत पर जैविक सब्जी वाटिका लगाकर उसे सिंचित किया जा रहा है। जमुना नगर निवासी मनोज तिवारी और प्राची ने बताया कि जैविक वाटिका में सब्जियों की बेल व पौधे गमलों में लगाए गए हैं। टेरिस गार्डन की तरह ही यह विशेष वाटिका है, जिसमें सिर्फ सब्जी व मसालों के पौधे लगाए गए हैं। जैविक खाद का उपयोग किया जा रहा है। रहवासियों ने घर के आंगन और मुख्य मार्ग के दोनों ओर बड़, पीपल, नीम, शीशम, करंज, अर्जुन जामुन, सप्तपर्णी आदि के पौधे लगाए हैं। इनकी कालोनी के रहवासी सिंचाई करते हैं।

इस कार्य में रमेश सांवले, विनोद मतकर, मुकुंदा पंवार, अश्विन महाजन आदि सहयोग देते हैं। यहां पर करीब 151 पौधे लगाए गए हैं। अब पौधे एक साल के हो गए हैं। रहवासियों ने बताया कि नईदुनिया की मुहिम से जुड़कर सावन माह में मार्ग किनारे बरगद, नीम के पौधे रोपेंगे।

जैविक वाटिका पर एक नजर : जैविक सब्जी वाटिका को तीन भागों में बांटा गया है। इसमें तीन तरह की सब्जियां लगाई हैं। पत्ते वाली में मैथी, धनिया और पालक है, बेल वाली में लौकी, गिलकी, तुरई, करेला व परवल शामिल हैं। इसी तरह फल वाली में भिंडी, बैगन, टमाटर, मिर्ची, गोभी व अन्य सब्जियां है। मसाला वाटिका में मसालों में प्याज, लहसुन, पुदिना, अजवाइन, तेज पत्र, मीठा नीम, लौंग, इलायची, लाल मिर्च लगाई गई है।

वर्तमान में यदि कुछ लोग घर में ही जैविक सब्जी व फल उगाकर इनका उपयोग कर रहे हैं तो यह सराहनीय प्रयास है। स्वास्थ्य वाटिका का निरीक्षण करेंगे। घर में उगाई गई जैविक सब्जियां स्वास्थ्य के लिए बेहतर रहती हैं। -आरएनएस तोमर, उद्यानिकी उपसंचालक, बुरहानपुर

Posted By: Prashant Pandey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.