HamburgerMenuButton

Damoh News : चुनाव जीतने के बाद बोले टंडन, अंगद का पैर उठते ही जनता का विश्वास भी उठ गया और राहुल हार गए

Updated: | Mon, 03 May 2021 09:17 PM (IST)

दमोह नईदुनिया प्रतिनिधि। दमोह विधानसभा उपचुनाव की मतगणना रविवार को संपन्न हुई जिसमें भाजपा प्रत्याशी राहुल सिंह काे कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन ने 17 हजार वोटों से हरा दिया। नवनिर्वाचित कांग्रेस विधायक अजय टंडन ने सोमवार को एक पत्रकारवार्ता का आयोजन किया और अपनी जीत के कारण बताए। उन्होंने कहा कि

राहुल सिंह ने अपने आपको अंगद कहा था। उनका कहना था कि यह अंगद का पैर है जो कांग्रेस पार्टी में जमा रहेगा। इसके बाद वह भाजपा में चले गए। इसलिए जब अंगद का पैर उठ गया तो जनता का विश्वास भी उनके ऊपर से उठ गया इसलिए राहुल सिंह चुनाव हार गए। यदि वाकई अंगद का पैर था तो वह जमे रहते और

संघर्ष करते, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

नर्मदा जल लेकर कसम खालें कि नहीं बांटा शराब और पैसा: उन्‍होंने कहा कि राहुल नर्मदा जी का जल लेकर कसम खालें कि उन्होंने उपचुनाव में शराब और पैसा नहीं बांटा। पुलिस ने पैसों से भरी कार गायब करवा दी जो पुलिसकर्मी मंत्री की बैसाखी पर चलने वाले है ऐसे अधिकारियों को सुधरना होगा। यशपाल ठाकुर, राशू चौहान और राजा रोतेला पर फर्जी मामला बना दिया। पुलिस वाले तो उन्हे भी कोरोना पॉजीटिव बताकर कोविड सेंटर भेजने वाले थे, लेकिन डाक्टर साबह ने रिपोर्ट देने की बात कर दी इसलिए वह कोविड सेंटर नहीं जा पाए। इस प्रकार की भर्राशाही नहींं चलेगी।

भोपाल चली गई वोट : टंडन ने कटाक्ष् करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री का हैलीकाप्टर जितनी बार प्रचार करने उतरा उनकी वोटें भोपाल चली गईं। सांसद प्रहलाद पटैल के बारे में उन्होंने कहा कि उन्होंने पूतना शब्द का इस्तेमाल किया था इस प्रकार की भाषा उन्हे नहीं बोलनी चाहिए, लेकिन एक हिंडोरिया का रहने वाला और दूसरे

नरसिंहपुर के रहने वाले हैं इसलिए वह दमोह की तासीर नहीं समझ सकते।

कोरोना से लड़ने अपनी तरफ से देंगे एक लाख रुपये: उन्होंने कहा कि अभी उनके पास न विधायक निधि है और नहीं कोई मद से राशि मिली है। इसलिए वह इस कोरोना महामारी में अपने स्वयं की ओर से एक लाख रुपए की राशि अस्पताल को देंगे जिससे मरीजों को कुछ राहत मिल सके। मीडियाकर्मियों ने उन्हे सीटी स्केन में होने वाली समस्या से अवगत कराया ताे श्री टंडन ने कहा कि वह मशीन करीब 70 लाख रुपए की आती है और अभी

तत्काल में मशीन लगने के लिए संसाधन भी उपलब्ध नहीं हैं, लेकिन वह हर संभव मदद करने तैयार हैं क्योंकि उन्होंने जनता के सामने झोली फैलाकर वोट मांगे थे और जनता ने उन्हे वोट दिया।

Posted By: Arvind Dubey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.