HamburgerMenuButton

Damoh News: पुलिस की पिटाई के चलते किसान ने खाया जहरीला पदार्थ, मौत

Updated: | Thu, 17 Jun 2021 10:07 PM (IST)

दमोह नईदुनिया न्यूज। पुलिसकर्मी की पिटाई करने के बाद आत्मग्लानी के चलते एक किसान युवक ने पुलिस के सामने ही जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। जिसे गंभीर हालत में जबलपुर रेफर किया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। घटना से आक्रोशित म़तक के स्वजनों व ग्रामीणों ने दमोह-जबलपुर मार्ग पर तेजगढ़ में जाम लगा दिया। बड़ी संख्या में दमोह से पुलिसबल मौके पर भेजा गया। इस दौरान पुलिस को हल्‍का बल प्रयोग भी करना पड़ा। सूचना पर एएसपी शिवकुमार सिंह भी मौके पर पहुंचे और स्वजनों को उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। इसके बाद म्रतक का अंतिम संस्कार किया गया। एएसपी का कहना है आरक्षरक रवि सेन को लाइन अटैच कर दिया है और जबलपुर मेडीकल कॉलेज से मर्ग डायरी आने के बाद आगे की जांच की जाएगी जो भी दोषी होगा उस पर कार्रवाई होगी।

पुलिस पर गंभीर आरोप: इस घटना में पुलिस पर एक संपन्न परिवार को बचाकर गरीब किसान को फंसाने के आरोप लगे हैं। करीब साढ़े तीन घंटे तक दमोह-जबलपुर मार्ग पूर्णत: बंद रहा और दोनों ओर वाहनों की लंबी लाइन लगी रही।

यह है मामला: दरअसल बबलू लोधी ने तेजगड़ निवासी प्रेम सिंघई की खेती सिकमी पर ली थी। उस समय एक बोरा उरदा देने की बात हुई थी। 13 जून को जब बबलू उरदा की थ्रेसिंग करा रहा थे। तभी प्रेम सिंघई के पुत्र खेत पहुंचे और बबलू की फसल से आधा हिस्सा मांगने लगे। इसे लेकर बबलू और प्रेम सिंघई के पुत्र व दोस्‍तों के बीच विवाद हो गया। उस दौरान मोबाइल भी टूट गया था। बाद में मामला तेजगढ़ थाने पहुंचा तो थाना प्रभारी ने दोनों पक्षों के बीच राजीनामा करवा दिया और सिंघई के पुत्र का मोबाइल टूटने पर बबलू से एक ट्राली रेत देने की बात कही। उस समय तो विवाद खत्म हो गया, लेकिन बुधवार को फिर बबलू की शिकायत प्रेम सिंघई के पुत्रों ने तेजगढ़ थाने में कर दी और पुलिस ने बबलू को थाने बुलाया। जहां एक आरक्षक ने उसके साथ मारपीट कर दी। शाम को बबलू लोधी को छोड़ दिया उसने पुलिस के सामने ही जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया।

शव देखते ही गुस्‍साएं ग्रामीण: म्रतक का शव गुरूवार को तेजगढ़ पहुंचा तो बड़ी संख्या में ग्रामीण एकत्रित हो गए। बाद में जब म्रतक की पत्नी ने अपने पति के शव को देखा तो उसके शरीर पर मारपीट के निशान थे। स्वजनों के साथ पतलोनी गांव के साथ अन्य गांव के लोगों ने तेजगढ़ मुख्य मार्ग पर जाम लगा दिया। सूचना मिलते ही एएसपी शिवकुमार सिंह भी मौके पर पहुंचे जहां स्वजनों ने एक ज्ञापन दिया और पुलिस कर्मियों व भूमि स्वामी और उनके पुत्रों पर मामला दर्ज करने की मांग की।

इन पर लगे आरोप: स्वजनों ने बबलू की मौत के लिए प्रेम सिंघई के लड़के जिनमें विनोद सिंघई, कैलाश सिंघई, राजू सिंघई, गोलू, संजय सिंघई के साथ तेजगढ़ थाना प्रभारी, पुलिस कर्मी रवि सेन, गौरव शुक्ला, एनएस ठाकुर और चार अन्य पुलिस कर्मियों पर को जिम्‍मेदार ठहराते हुए गंभीर आरोप लगाए साथ ही मामला दर्ज करने की मांग की है।

Posted By: Sunil Dahiya
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.