सचिन तेंदुलकर बोले, पिता चाहते थे बच्चों के लिए कुछ करें, वे आज हमारे बीच होते तो खुशी होती

Updated: | Tue, 16 Nov 2021 05:10 PM (IST)

देवास। महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर मंगलवार को देवास जिले में पहुंचे। वे इंदौर से सड़क मार्ग से देवास के जिले के खातेगांव के संदलपुर गांव पहुंचे। जहां उन्होंने एक एनजीओ के कार्यक्रम में शिरकत की। यहां सचिन ने अपने पिता को याद किया। सचिन ने कहा कि पिता चाहते थे बच्चों के कुछ लिए करें। वो आज हमारे बीच होते तो बहुत खुशी होती। (एनजीओ)संस्था परिवार एजुकेशन बच्चों की पढ़ाई के लिए कार्य करती है। सचिन बच्चों की पढ़ाई में मदद कर रहे हैं। सचिन ने टीम के साथ बिल्डिंग का दौरा भी किया। दौरा बेहद ही गोपनीय रखा था, लेकिन जैसे ही सुबह देवास की सड़कों से उनका काफिला गुजरा, तो लोगों ने सचिन को पहचान लिया। काफिल चापड़ा से बागली, पुंजापुरा होकर खातेगांव के संदलपुर पहुंचा। इस दौरान जहां से भी सचिन गुजरे। लोगों ने हाथों में तिरंगा लेकर उनका स्वागत किया।

कई लोगों ने रास्तें में उनकी कार पर फूल बरसाए। सचिन सफेद शर्ट में कार की पीछे की सीट पर बैठे थे। सचिन ने कई जगह हाथ हिलाकर लोगों के अभिवादन को स्वीकार किया। कई लोगों ने आवाज लगाकर सचिन को रुकने के लिए भी निवेदन किया। तिरंगा हाथ में लिए लोगों ने भारत माता के नारे भी लगाए। सचिन के साथ विदेशी लोगों की टीम भी थी। इस दौरान सचिन के साथ आई टीम ने शूटिंग भी की। सचिन के दौरे के लेकर सुरक्षा इंताजम किए गए।

Posted By: Prashant Pandey