दो साल से नहीं कराई परीक्षा, शासन व मेडिकल विवि जबलपुर को नोटिस जारी

Updated: | Sat, 27 Nov 2021 07:15 AM (IST)

- पेरामेडिकल के 19 छात्रों ने दायर की है हाई कोर्ट में याचिका

- जनरल प्रमोशन देकर पास करने की मांग कर रहे हैं विद्यार्थी

ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। हाई कोर्ट की युगल पीठ ने विद्याथियों की याचिका पर सुनवाई करते हुए मध्य प्रदेश शासन, मेडिकल विश्वविद्यालय जबलपुर को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। पेरामेडिकल कोर्स के विद्यार्थियों ने जनरल प्रमोशन व आंतरिक मूल्यांकन परीक्षा के आधार पर पास करने की मांग की है। बीपीटी, बीएमएलटी, डीएमएलटी के कोर्स को करने वाले विद्यार्थी प्रदेशभर में आंदोलन कर रहे हैं। जब विश्वविद्यालय में कोई सुनवाई नहीं हुई तो विद्यार्थियों ने हाई कोर्ट में याचिका दायर की है।

®सटू भदौरिया सहित 19 विद्यार्थियों ने याचिका याचिका दायर की है। उनका कहना है किकोरोना के चलते उनकी परीक्षाएं नहीं कराई हैं, डिग्री दो साल पिछड़ चुकी है। जिस विद्यार्थी ने 2019 में प्रथम वर्ष में प्रवेश लिया था, वह अभी भी प्रथम वर्ष में ही पढ़ रहा है। द्वतीय व तृतीय वर्ष के विद्यार्थी भी उसकी कक्षा में है। दो साल बीत चुके हैं, लेकिन शासन व विश्वविद्यालय ने परीक्षा नहीं कराई है। चार साल की डिग्री छह से सात साल में पूरी होगी। इससे विद्यार्थियों को नुकसान होगा। विश्वविद्यालय ने नर्सिंग कोर्स के विद्यार्थियों को जनरल प्रमोशन देकर पास किया है, वैसे उन्हें भी पास किया जाए। विद्यार्थियों परीक्षा पर स्थगन आदेश चाह रहे थे, जो नहीं मिला। कोर्ट ने सुनवाई के बाद नोटिस जारी कर दिए हैं।

Posted By: anil.tomar