ग्‍वालियर आडियो वायरल: महिला कर्मचारी से बोला अफसर- मैंने तुम्हारी तकलीफ दूर की, अब तुम मेरे पास रहोगी

Updated: | Sun, 05 Dec 2021 06:45 AM (IST)

- यूडीएस कंपनी के अधिकारी और जेएएच की कर्मचारी के बीच बताई जा रही चर्चा

ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जयारोग्य अस्पताल में नौकरी दिलाने के नाम पर महिला के शोषण का प्रयास का एक आडियो शुक्रवार को वायरल हुआ है। अस्पताल के स्टाफ द्वारा यह आडियो जेएएच की महिला कर्मचारी और यूडीएस कंपनी के अधिकारी के बीच वार्तालाप का बताया जा रहा है। हालांकि जांच के बाद ही यह स्पष्ट हो सकेगा की आवाज किसकी है।

आडियो में अधिकारी नौकरी दिलाने के नाम पर महिला को अपने पास रखने की बात कर रहा है। साथ ही खुद के विधायकों से ताल्लुक बताते हुए उसके बच्चे का स्कूल में प्रवेश दिलाने का लालच भी दे रहा है। जब अफसर ने महिला से अपने लिए कुछ करने को कहा तो महिला सॉरी कहते हुए बाद में बात करने की कहकर फोन काट देती है।

फूलबाग पर हुई थी मैनेजर की पिटाई: जेएएच में महिला कर्मचारी से शोषण के प्रयास का यह पहला मामला नहीं है। इसके पहले भी यूडीएस कंपनी के सफाई मैनेजर छेड़छाड़ के आरोप में फूलबाग चौराहा पर पब्लिक द्वारा पिटाई की जा चुकी है। उन्होंने जेएएच की एक महिला कर्मचारी को मिलने के लिए फूलबाग बुलाया था। महिला अपने स्वजन के साथ पहुंची और छेड़छाड़ का आरोप लगाया, जिसकी शिकायत पड़ाव थाना में दर्ज की गई थी। यही नहीं इसके पहले सुपर स्पेशियलिटी में भी महिला कर्मचारियों ने रात में यूडीएस के कर्मचारी पर गलत नीयत का आरोप लगाते हुए धरना दिया था। इस दौरान कंपू पुलिस को बुलाना पड़ा था।

वायरल आडियो में बातचीत के अंश-

अफसर: ध्यान रखो तुम सब चीजों का

महिला: जी

अफसर: कल कागज लाना, तुम्हारा काम हम कर देंगे। मकान हम दिलवा देंगे हमारी जिम्मेदारी है।

महिला: जी

अफसर: मम्मी-पापा तुम्हारे साथ रहेंगे या अलग

महिला: नहीं वह तो हजीरा रहेंगे, मैं लश्कर में रहूंगी

अफसर: लश्कर नहीं हमारे पास रहोगी। मैं जिस मकान में रहता हूं उसी में तुम्हे रखूंगा

महिला: जी सर

अफसर: मेरा कमरा बहुत अच्छा है, मैं अभी उसका वीडियो तुम्हे भेज रहा हूं। अब तुम सुपरवाइजरों को पकड़ाओ।

महिला: जी सर

अफसर: तुम्हारी परेशानी दूर कर दी, बच्चे का भी किसी विधायक से बोलकर स्कूल में प्रवेश दिला देंगे।

महिला: ठीक सर, आपने तो मेरी सभी परेशानी दूर कर दीं।

अफसर: तुम अपने माता-पिता के कागज सुबह नौ बजे ले आना, तत्काल नौकरी पर रखवा दूंगा। तुम्हें यहां पर कौन लेकर आया था।

महिला: मेरी सहेली का दोस्त अजीत ने नौकरी दिलाई थी।

अफसर: तुम्हारा कोई व्बॉयफ्रेंड है।

महिला: नहीं मेरा कोई व्बॉयफ्रेंड नहीं, बस एक से बात करती हूं।

अफसर: उसके साथ कुछ हुआ तो नहीं।

महिला: नहीं बस दोस्त है, एक सिस्टर के नाते बात कर लेती हूं।

अफसर: तुम मेरी मदद क्या और कैसे करोगी और तुम्हें कोई दिक्कत तो नहीं होगी।

महिला: सॉरी सर मैं इसके बारे में कल बात करूंगी

वर्जन

ऑडियो मुझे तक भी पहुंचा है। यूडीएस कंपनी को संबंधित व्यक्ति के खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए अस्पताल से बाहर करने के लिए कहा जाएगा। जिससे यहां पर इस तरह की गंदगी न रहे।

डा आरकेएस धाकड़, अधीक्षक जेएएच

Posted By: anil.tomar