Gwalior Bharat Band Updates: भारत बंद के दौरान किसान नेताओं व दुकानदारों में झडप

Updated: | Mon, 27 Sep 2021 03:59 PM (IST)

Gwalior Bharat Band Updates: ग्वालियर. नईदुनिया प्रतिनिधि। कृषि बिल को वापस लेने के लिए विभिन्न किसान संगठनों ने सोमवार को भारत बंद का आह्वान किया है। इस बंद का शहर पर असर कम ही देखने को मिला। हालांकि जब जनकगंज में किसान नेताओ व दुकानदारों के बीच हल्‍की झडप भी हुई। दुकानदारों के साथ माकपा कार्यकर्ता भी शामिल थे। झडप जनकगंज के शासकीय स्‍कूल के सामने हुईा। इस दौरान दुकानदारों ने बीजेपी जिंदाबाद के नारे भी लगाए। सामान्य तौर पर बाजार खुले रहे। हालांकि जिस रूट से किसानों को प्रदर्शन करते हुए जाना था। उसी रूट पर दुकानें बंद हुई। लेकिन किसानों की रैली व ट्रैक्टर मार्च निकलने के बाद दुकानें खुल गई। हालांकि किसान इससे पहले पुरानी छावनी चौराहे पर एकत्रित हुए और ट्रैक्टर मार्च निकाला।

27 सितंबर को किसान संगठनों ने भारत बंद का आह्वान किया था। लेकिन इस बंद का शहर पर अधिक असर नहीं देखा गया। पुरानी छावनी, मोतीझील, बहोड़ापुर, हनुमान चौराहे, जनकगंज, बाड़ा, व सराफा होकर किसानों का जुलूस व ट्रैक्टर मार्च माकपा कार्यालय पर पहुंचा। केवल इसी रूट पर ही बाजार प्रभावित रहा। पुलिस ने सतर्कता बरतते हुए पुलिस बल तैनात किया था। किसान पुरानी छावनी चौराहे पर एकत्रित हुए और ट्रैक्टर मार्च निकालते हुए फूलबाग के पास माकपा कार्यालय पर पहुंचे। हालांकि इस दौरान किसी तरह कि अप्रिय स्थिति नहीं बनी।

जुलूस रूट के अलावा अन्य बाजारों में रही सामान्य स्थति: जिस रूट से किसानों का ट्रैक्टर मार्च जाना था। कारोबार को देखते हुए केवल इस रूट पर ही बाजार बंद जैसी स्थिति रही। लेकिन इसके अलावा शहर के अन्य बाजारों में सामान्य स्थति रही। न केवल दुकानें खुली, बल्कि लोगों ने खरीदारी भी की। हालांकि पुलिस ने इन जगहों पर बल तैनात किया था। जिससे यदि कोई परििस्थति बने तो उस पर काबू पाया जा सके।

Posted By: anil.tomar