Gwalior Business News: नवरात्र से पहले बाजार ने पकड़ी रफ्तार

Updated: | Sat, 25 Sep 2021 08:15 AM (IST)

Gwalior Business News: ग्वालियर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। पितृपक्ष छह अक्टूबर तक चलेंगे, फिर सात अक्टूबर से शारदेय नवरात्र शुरू हो जाएंगे। इसके साथ ही त्योहरों के दिनों का आगाज हो जाएगा। इसी बात को ध्यान में रखकर शहरवासियों ने नवरात्रों से पहले दीपावली के लिए अपने घरों को संवारने के लिए बाजार से खरीदारी शुरू कर दी है। अभी पूरी तरह से रंगाई-पुताई से जुड़ी सामग्री पर टिका हुआ है।

कारोबारियों का कहना है कि अन्य सालों के मुकाबले इस साल कारोबार थोड़ा कम है, क्योंकि कोरोना के कारण लोगों की आर्थिक स्थिति में गिरावट आई है। फिर भी घर की पुताई में इस्तेमाल होने वाली सामग्री की बिक्री बढ़ने लगी है। चूंकि दीपावली चार नवंबर को मनाई जानी है। ऐसे में व्यापार में अभी और इजाफा होने की पूरी उम्मीद है। पेंट व्यवसाई दीपक लाल ने बताया कि लाकडाउन के बाद से अब तक चार बार में पेंट के रेटों में वृद्धि हुई है। आठ से 10 रुपये किलो तक हर तरह के पेंट महंगा हो गया है। आयल पेंट की 20 किलो की जो बाल्टी पहले चार हजार रुपये की आती थी वह अब 4200 रुपये की हो गई है। 20 लीटर पेंट दो हजार के बजाय 2200 रुपये का हो गया है। 20 किलोग्राम डिस्टेंपर भी 800 के बजाय 875 रुपये का हो गया है। वुडन पेंट की कीमत में भी 10 रुपये प्रतिकिलोग्राम की तेजी आई है।

पेंट व्यवसाइयों ने बताया कि लेवर का खर्चा भी बढ़ गया है। बीते साल तक 400 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से घर पेंट करने वाले श्रमिक मिल जाते थे। मगर अब 600 रुपये लेवर लग रहा है। लेवर का खर्चा बढ़ने का कारण पेट्रोल-डीजल समेत अन्य महंगाई का बढ़ना भी है। श्रमिक 100 रुपये तो घर से आने-जाने का खर्चा ही अलग से लेने लगे हैं।

Posted By: anil.tomar