HamburgerMenuButton

Gwalior Cleanliness Campaign News: वाकाथान से बढेंगे रैंकिंग के कदम, स्वच्छ ग्वालियर की शपथ लेंगे हम

Updated: | Sun, 07 Mar 2021 08:52 AM (IST)

Gwalior Cleanliness Campaign News: ग्वालियर, नईदुनिया प्रतिनिधि। स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 प्रांरभ हो चुका है, शहर को साफ व स्वच्छ रखने नौ मार्च को शाम 5:30 बजे वाकाथान(पैदल मार्च) में शहरवासी शपथ लेंगे। शहरवासियों को स्वच्छता का संदेश देने नईदुनिया और ग्वालियर नगर निगम द्वारा महाराज बाड़ा से वाकथान मार्च का आयोजन किया जा रहा है। इस अवसर पर जनप्रतिनिधियों सहित प्रबुद्धजन, समाजसेवी, व्यापारी व सामाजिक संस्थाओं के पदाधिकारी एकत्रित होंगे, पैदल मार्च कर लोगों को शहर को स्वच्छ बनाने संदेश और संकल्प दिलाएंगे।

स्वच्छ सर्वेक्षण में नंबर-1 रैंकिंग लाने नगर निगम व उसके कर्मचारी लगातार कार्य कर रहे हैं। ऐसे में जरूरी है कि शहरवासी भी स्वच्छता में सहयोग कर शहर को साफ रखें। स्वच्छता का यह संदेश जन-जन तक पहुंचाने के लिए ही नईदुनिया और नगर निगम द्वारा वाकाथान मार्च का आयोजन किया जा रहा है। यह पैदल मार्च महाराज बाड़ा से शुरू होकर शहर के प्रमुख मार्गों से निकाला जाएगा। इस दौरान लोगों को गीला-सूखा कचरा टिपर वाहनों को अलग-अलग देने के लिए जागरूक किया जाएगा। लोगों को बताया जाएगा की डोर टू डोर टिपर वाहनों में सूखा-गीला कचरा अलग-अलग रंग के डिब्बे लगे हुए हैं।

सफाई वाहनों का होगा प्रदर्शन: शहरवासियों को नगर निगम द्वारा सफाई व्यवस्था के उपयोग में लाई जाने वाली मशीनरी का भी प्रदर्शन वाकाथान में किया जाएगा। वाकाथान के आगे सभी वाहन भी चलेंगे, जिनमें टिपर वाहन, डंपर, मिनी डंपर व बोलेरो आदि शामिल रहेंगे।

जनप्रतिनिधि करेंगे जनता से अपीलः कार्यक्रम के दौरान जनप्रतिनिधि भी लोगों से अपील करेंगे कि कचरा सड़क पर नहीं फेंके। अगर आप सड़क पर चल रहे हैं या किसी सामान आदि का कचरा व पॉलीथीन आदि डस्टबिन मेें ही डालें। साथ ही सुबह शहर के सभी मोहल्लों, कालोनियों आदि में आने वाली टिपर वाहन में ही गीला और सूखा कचरा अलग-अलग कर डालें। इस प्रकार अलग-अलग कचरा डालने से प्लांट पर काफी आसानी से कचरे का निष्तारण किया जा सकता है। साथ ही यह हम सभी के स्वास्थ्य के लिए भी काफी अहम है।

यह रहेगा वाकाथान का रूटः महाराज बाड़े से वाकाथान मार्च प्रारंभ होगा, जो सराफा बाजार, दाना ओली, गश्त का ताजिया होते हुए मृग्नयनी एम्पोरियम से दौलतगंज पहुंचेगा। यहां से वापस यह महाराज बाड़ा रवाना होगा। महाराज बाड़ा जनप्रतिनिधियों के द्वारा स्वच्छता दूतों का सम्मान किया जाएगा।

चार प्रकार के कचरे के बारे में जानेंगेः वाकाथान में जनप्रतिनिधि व नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा सहित अन्य अधिकारी शहरवासियों को घराें से निकलने वाले चार प्रकार के कचरे के बारे में जागरूक करेंगे। जैसे सूखे कचरे में कागज, कपड़ा, प्लास्टिक, एवं कांच के टुकड़े आदि होते हैं। वहीं गीले कचरे में बची हुई खाद्य सामग्री, फल, मीट, घास, पेड़ की पत्तियां एवं सब्जी के छिलके आदि होते हैं। जैविक अपशिष्ठ कचरे में सेनेटरी नेपकिंस, डायपर, मास्क, एक्स्पायर्ड दवाईयां, सुई, ग्लब्स एवं टिशु पेपर होते हैं। घरेलू हानिकारक कचरे में उपयोग किए पेंट के डिब्बे, बल्व, सीएफएल, टयूबलाइट एवं बैटरी आदि शामिल हैं। इन चारों प्रकार के कचरे के बारे में आमजन को बताया जाएगा ताकि जब स्वच्छ सर्वेक्षण का दल शहर में आए तो शहरवासी उन्हें यह जानकारी दे पाएं।

Posted By: vikash.pandey
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.